महिला आरक्षण के लाभ छत्तीसगढ़ के मूल निवासी महिला मन ल देहे जाही

महिला आयोग के अध्यक्ष ह मुख्यमंत्री के आभार जताईन


मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ले पाछू दिन उंकर निवास कार्यालय म राज्य महिला आयोग के अध्यक्ष श्रीमती हर्षिता पांडे के नेतृत्व म प्रतिनिधि मंडल ह सौजन्य मुलाकात करिन। उमन राज्य शासन द्वारा सरकारी नौकरी मन म सिरिफ छत्तीसगढ़ के महिला मन ल आरक्षण अउ आयु सीमा म छूट देहे के निर्णय बर मुख्यमंत्री ल आभार प्रकट करिन। श्रीमती पाण्डेय ह कहिन के ये निर्णय ले छत्तीसगढ़ के मूल निवासी महिला मन ल लाभ मिलही। एकर ले छत्तीसगढ़ के महिला मन ल सरकारी नौकरी म समुचित प्रतिनिधित्व प्राप्त होही। प्रतिनिधि मंडल म अधिवक्ता श्रीमती रीतु बुन्देल,चिकित्सक डॉ रंजना मेहरा, प्रोफेसर श्रीमती शैल शर्मा, पीएससी प्रशिक्षणार्थी कूुमारी आलिया खान अउ कुमारी विभा कश्यप शामिल रहिन। आप मन ल सुरता होही के 13 दिसंबर के दिन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के अध्यक्षता म केबिनेट के बैठक होए रहिस हे तेमा छत्तीसगढ़ सिविल सेवा नियम 1997 म संसोधन करे के निर्णय लेहे गए हे। जेकर तहत महिला अभ्यर्थि मन बर लागू  30 प्रतिशत आरक्षण अउ आयु सीमा म छूट के लाभ केवल छत्तीसगढ़ के स्थानीय महिला अभ्यर्थि मन ल ही मिलही।

Post a Comment

0 Comments