राजिम महाकुंभ कल्प 2017





10 ले 24 फरवरी तक चलही छत्तीसगढ़ के राजिम कुंभ


रायपुर, छत्तीसगढ़ के ‘प्रयागराज’ नाम ले प्रसिद्ध राजिम म महानदी, पैरी अऊ सोंढूर नदी के संगम म प्रसिद्ध सालाना मेला राजिम कुंभ माघ पूर्णिमा के दिन 10 फरवरी ले शुरू होवत हे, जऊन 24 फरवरी तक चलही। कुंभ मेला के तैयारी जम के चलत हे। ये समें के खास बात हे कि खाद्य विभाग इहां 160 दाल-भात केंद्र तको खोलत हे। ए साल राजिम कुंभ के 12 साल पूरा होवत हे, ते खातिर राज्य सरकार हर एला राजिम महाकुंभ (कल्प) के रूप म मनाए के निर्णय ले हावे। धार्मिक न्यास अउ धर्मस्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल हर पाछू सनिच्‍चर संझा राजिम के त्रिवेणी संगम म मेला के तैयारी के पैदल निरीक्षण करे रहिन अऊ अधिकारी मन के बैठक लेके तैयारी मन के समीक्षा करे रहिन। अग्रवाल जी ह नवा पारा ले बेलाहीपुल होत लोमश ऋषि आश्रम, कुलेश्वर मंदिर, संत-समागम स्थल, साधु-संत मन के आवासीय स्थल, शाही स्नान कुंड, प्रवचन स्थल मन के व्यवस्था मन के निरीक्षण करिस। अग्रवाल कल्पवास करत साधु-संत अऊ आन श्रद्धालु मन ले घलोक मिलीन।






राजिम महाकुंभ कल्प 2017 म एसो तीन पर्व स्नान होही जउन ह 10 फरवरी माघ पूर्णिमा, 19 फरवरी जानकी जयंती अऊ 24 फरवरी महाशिवरात्रि के दिन होही। मेला के पहिली दिन सुधांशु महाराज एखर उद्घाटन करहीं, 18 फरवरी ले शुरू होवत सात दिन के विराट संत समागम सतपाल महाराज के मुख्य आतिथ्य म शुरू होही। अइसनहे 18 ले 24 फरवरी तक चलइया विराट संत समागम म सदानंद महाराज, आचार्य महामंडलेश्वर विशोकानंद महाराज समेत अड़बड़ अकन संत मन पहुंचहीं। 24 फरवरी तक इहां कई ठन सांस्कृतिक कार्यक्रम के प्रस्तुति होही।


राजिम कुंभ मेला समिति के ओएसडी अउ सदस्य सचिव गिरीश बिस्सा के कहना हवय के एसो सोशल मीडिया म कुंभ मेला लाइव दिखही। राजिम कुंभ मेला समिति एखर बर सोशल मीडिया म घलोक आयोजन ल अड़बड़ प्रमोट करत हे। धर्मस्व विभाग ले एला सोशल मीडिया अऊ यू-ट्यूब के संगें-संग तमाम ऑनलाइन प्लेटफॉर्म म लाइव देखाय के तैयारी करे जावत हे।





Post a Comment

0 Comments