उन्नाव दुष्‍कर्म कांड में सीबीआई की बड़ी कार्रवाई

सेगर के 17 ठिकानों पर छापमारी

उन्नाव, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने रविवार को उन्नाव रेप केस के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के 17 ठिकानों पर दबिश दी। पीडि़ता के दुर्घटना मामले में जांच कर रही सीबीआई की टीमें लखनऊ, उन्नाव, बांदा और फतेहपुर में सेंगर के ठिकानों पर पहुंचीं और संबंधित लोगों से पूछताछ की।
सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को जांच के लिए सात दिन दिए हैं और इसी के मद्देनजर वह तीव्र गति से जांच में जुटी हुई है। इस बीच, बताया जा रहा है कि सीबीआई की एक टीम पीडि़ता के गांव भी पहुंची। सेंगर सीतापुर जेल में बंद है और शनिवार को सीबीआई का एक दल वहां भी पहुंचा था।
विधायक से अकेले में टीम ने कई तरह की जानकारियां हासिल की। सीबीआई टीम के पहुंचने के करीब 35 मिनट बाद जेल अधीक्षक डीसी मिश्रा भी अपने आवास से जेल पहुंचे जेल के सीसीटीवी सिस्टम को भी सीबीआई ने अपने जांच के दायरे में लिया है। विधायक से मुलाकात करने वालों की सूचना भी तलब की गई है। दल के सदस्यों ने करीब 6 घंटे सेंगर से पूछताछ की। सीबीआई ने जांच समय पर निपटाने के लिए 20 अधिकारियों की टीम गठित की है।
सीबीआई की टीम फरेंसिक एक्सपर्ट्स के साथ तीन दिन में दो बार दुर्घटनास्थल का भी निरीक्षण कर चुकी है। सेंगर पर लगातार शिकंजा कसा जा रहा है। सेंगर के हथियारों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए हैं। शनिवार को जिला मजिस्ट्रेट ने विधायक के असलहों को निरस्त कर दिया। विधायक के पास एक बंदूक, एक राइफल और एक रिवॉल्वर है। सीबीआई ने माखी थाने पहुंचकर एसओ से भी केस से जुडी जानकारी ली है। उल्लेखनीय है कि हादसे में घायल हुई पीडि़ता और उसके वकील की हालत नाजुक बनी हुई है।

Post a Comment

0 Comments