सीएम केजरीवाल ने सीएनजी कारों और बाइकों पर की सख्ती

इंटरनेट डेस्क। दिल्ली में 4 से 15 नवंबर तक चलने वाले ऑड-ईवन के तहत प्राइवेट सीएनजी कारों और बाइकों को मिलने वाली राहत भी खत्म हो जाएंगी। ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने सीएम केजरीवाल को सौंपी अपने सिफारिशों में कहा है कि निजी सीएनजी कारों के बड़े पैमाने पर दुरुपयोग के मामले देखने को मिलते हैं। इसके चलते पोल्यूशन खत्म करने के लिए चलाई जाने वाली इस स्कीम का मकसद ही खत्म हो सकता है।

पीएम मोदी और शी चिनफिंग ने डिनर में दक्षिणी भारत खाने का लुत्फ उठाया

ऐसे में इन कारों को ऑड-ईवन के तहत छूट नहीं दी जा सकती है। परिवहन विभाग ने स्पष्ट किया है कि पहले की तरह ही इस बार भी महिला कार चालकों को स्कीम से बाहर रखा जाएगा। सुरक्षा कारणों से सरकार ने महिला कार चालकों को यह राहत देने का फैसला लिया है। ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर कैलाश गहलोत ने ऑड-ईवन को लेकर डिपार्टमेंट की सिफारिशें सीएम अरविंद केजरीवाल को भेज दी हैं। इनमें एक अहम सिफारिश दिल्ली सरकार के दफ्तरों में कामकाज 11 बजे से शुरू करने की भी है ताकि पीक आवर्स में ट्रैफिक जाम को कम किया जा सके।

महाबलीपुरम: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के स्वागत के लिए विशेष स्वागत दरवाजों का निर्माण किया गया है

अरविंद केजरीवाल ने ऑड-ईवन स्कीम को लेकर परिवहन विभाग के सुझाव मांगे थे। सीएम अरविंद केजरीवाल ने सर्दियों के मौसम में बीते कई साल से राजधानी में छा जाने वाले स्मॉग से निपटने के मकसद से सितंबर में इस स्कीम को एक बार फिर से लागू किए जाने का ऐलान किया था। सर्दियों के मौसम में हवा धीमी होने, पराली जलाने के धुएं और अन्य कई कारणों से स्मॉग छा जाता है। ऐसे में पलशून से निपटने के विंटर ऐक्शन प्लान के तहत केजरीवाल सरकार ने ऑड-ईवन स्कीम की वापसी का ऐलान किया है। निजी सीएनजी कारों को छूट न देने को लेकर सरकार का पक्ष है कि गैर-कार्मशियल कारों को स्कीम के दायरे से बाहर नहीं कर सकते।



Post a Comment

0 Comments