अब सोनिया गांधी नहीं ले सकेंगी कांग्रेस में अंतिम फैसला, जानें कौन लगाएगा आखिरी मुहर?

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस लोकसभा चुनाव 2019 की हार के बाद से ही अपने भीतर परिवर्तन करती नजर आ रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पहले हार ही जिम्मेदारी लेते हुए अध्यक्ष पद छोड़ दिया था। इसके बाद कांग्रेस पार्टी ने फिर से सोनिया गांधी के नेतृत्व में आने की इच्छा जताई और उनको कार्यकारी अध्यक्ष बना दिया। हालांकि पार्टी में एक नया बदलाव हो गया है। अब सोनिया गांधी किसी भी मुद्दे पर अंतिम फैसला नहीं ले सकेंगी। अब आखिरी मुहर ये नेता लगाएंगे। आइए जानें वो कौन हैं।

ये है कांग्रेस का बड़ा फैसला

कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को बड़ी बैठक की जो दिल्ली में हुई। इस बैठक में कांग्रेस ने पार्टी में लोकतांत्रिक व्यवस्था बनाने के लिए बड़ा फैसला ले लिया। नए फैसले के मुताबिक अब सोनिया गांधी कार्यकारी अध्यक्ष जरूर हैं लेकिन कोई भी बड़ा फैसला वो अकेले नहीं कर सकेंगी। अब इसके लिए बैठक में 17 नेताओं का एक थिंक टैंक बनाया गया है जो किसी भी बड़े फैसले पर अंतिम मुहर लगाएगा।

जानें कौन-कौन नेता होंगे इस समूह में

कांग्रेस ने जो विशेष ग्रुप बनाया है, उसमें कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता हैं। इस समूह में पहला नाम सोनिया गांधी का है। इसके अलावा राहुल गांधी, मनमोहन सिंह, केसी वेणुगोपाल, अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे, एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद, कपिल सिब्बल, जयराम रमेश और आनंद शर्मा के अलावा कुछ युवा नेता भी हैं।इनमें सिंधिया, सुरजेवाला, सुष्मिता देव, राजीव सातव के नाम हैं इसके अलावा सोनिया गांधी ने अंबिका सोनी को भी इस समूह में जगह दे दी है।

दोस्तो आपको क्या लगता है सोनिया गांधी का कद घटा दिया गया है, कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें। हर अपडेट के लिए आप मुझे फॉलो जरूर करें। धन्यवाद।।

(न्यूज सोर्स- amarujala.com)



Post a Comment

0 Comments