चीनी खाने वाले नहीं जानते यह बातें, जान गए तो कभी हाथ नहीं लगाएंगे

पुराने समय से लेकर अब तक हमारे भोजन और खानपान में काफी ज्यादा बदलाव आ चुका है। पहले भोजन ऊर्जा प्राप्त करने और स्वस्थ रहने के लिए किया जाता था, लेकिन आज हम सभी लोग ऐसी चीजें खा रहे हैं। जो स्वाद में भी अच्छी लगे और दिखने में भी खूबसूरत हो शरीर के अंदर जाने के बाद सेहत पर इसका क्या प्रभाव पड़ता है। यह जानते हुए भी हम इन चीजों को लगातार सेवन करते हैं।

चीनी या शुगर भोजन में मिठास लाने की एक ऐसी वस्तु है, जो कि आज पूरी दुनिया में पाई जाने वाली अधिकतर बीमारियों की वजह बन चुकी है। और इससे फैलने वाली बीमारियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है वजह है, लोगों का चीनी ना छोड़ पाना क्योंकि जब भी लोगों को चीनी कम करने की सलाह दी जाती है। तो उन्हें लगता है कि मीठा खाना बंद करना होगा जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है, हमेशा ध्यान रखिए मीठा और चीनी दो अलग-अलग चीजें है।

एक व्यक्ति मीठा तो भरपूर मात्रा में खा सकता है, लेकिन चीनी बिल्कुल भी नहीं क्योंकि चीनी हमारे शरीर में वही प्रभाव कर सकती है। जैसे अल्कोहल करता है और उसी की तरह खतरनाक भी हो सकती है। चीनी गन्ने के रस से बनाई जाती है, लेकिन गन्ने के रस से लेकर चीनी बनने की पूरी प्रक्रिया में सभी न्यूट्रेंस खत्म हो जाते हैं। और साथ ही इसमें कई सारे हानिकारक चीजें भी मिलाई जाती है|

पोषक तत्वों के नजरिए से देखा जाए तो चीनी में मीठा पन और केमिकल्स के अलावा कुछ भी नहीं होता है। यानी कि इसमें विटामिन, मिनरल्स, प्रोटीन की मात्रा नहीं होती है। जब भी हम कुछ खाते हैं तो उसकी पचाने की प्रक्रिया चबाने से ही शुरू हो जाती है, लेकिन चीनी खाने पर ऐसा नहीं होता है। चीनी पेट में जाने के बाद ठीक तरह से नहीं पचती है।

उम्मीद करता हूं दोस्तों यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी अच्छी लगी तो हमें कमेंट में बताएं। और साथ ही इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लाइक और शेयर करें। और ऊपर दिए हुए पीले बटन को दबाकर फॉलो करें।



Post a Comment

0 Comments