19, 20 और 21 नवंबर तक भविष्यफल : जानें क्या कहती है आपके हाथों की लकीरें

सबसे पहले ऊपर दिए गए पीले रंग के बटन को दबाकर हमें फॉलो जरूर कीजिएगा वह सभी राशियां नीचे दी गई है.

मेष, सिंह, धनु राशि :

अपने सिद्धांतों की व्याख्या और पुनर्मुल्यांकन का दिन है ǀआप पिछले फैसलों के लिए खुद से और अपने साथी से भी सवाल कर सकते हैं ǀफिर भी आप उसके प्रति बहुत अच्छे बने रहेंगे और उससे भी बदले में यही उम्मीद रखेंगे ǀ जब पुराने विचारों से कोई काम बनता दिखाई न दे रहा हो तो नए विचारों को अपना लेने में कोई बुराई नही है ǀ इस समय आपको धन सम्बन्धी कोई छोटी-बड़ी हानि भी हो सकती है। इसलिए आपको जितना भी संभव हो अपने ख़र्चों पर काबू रखें। इसके बाद सप्ताह के अंत में आपका मन उच्च शिक्षा या धर्म से संबंधित शिक्षा में अधिक लगेगा और इस दौरान आप धार्मिक कार्यों में अधिक लिप्त नज़र आएँगे। व्यापारियों को इस समय विशेष तौर से पार्टनर शिप का बिज़नेस करने वाले लोगों को इस समय अपने काम से जुड़ी किसी यात्रा पर जाना पड़ सकता है।

वृष, कन्या, मीन राशि : 

आपको स्वास्थ्य सम्बन्धी छोटी दिक्कतें हो सकती हैं जिनसे आपका स्वास्थ्य आंशिक रूप से प्रभावित होगा,लेकिन इससे आपको ज्यादा परेशानी नही होनी चाहिए ǀआप को ठंड,सामान्य खांसी आदि हो सकते हैं ǀमाचिस जलाते हुए भी सावधान रहें ǀथोड़े से सावधान रहने भर से आप खुद को काफी परेशानियों से बचा सकते हैं ǀअपने साथ एक हैण्ड सनीटीजेर रखें ǀसूर्य देव का गोचर आपकी राशि से षष्ठम भाव में होगा और ये अवधि आपके लिए शुभ साबित होने वाली है। इस समय जिस भी किसी कार्य में आप पिछले कई समय से मेहनत कर रहे थे इस वक़्त उसमें सफलता आपको मिल सकती है, इसलिए आपके लिए बेहतर यही होगा कि इस दौरान अपने प्रयत्नों को गति देते रहें। 

मिथुन, तुला, कुंभ राशि : 

आप खर्चीले साबित हो सकते है ! आपकी अवचेतन अवस्था आध्यात्मिक संदेशो के द्वारा निर्देशित हो सकती है जिस में आप फस सकते हो , सुझाव व् उपायों में कोई खराबी नहीं है ,परन्तु अपनी बचत को खाली कर के नहीं । तथ्यात्मक यह सब अच्छा नहीं होगा, बस धैर्य रखने की जरुरत है और चीजे धीरे-धीरे ठीक होनी शुरू हो जाएंगी ।विरोधी पक्ष पर आप हावी दिखाई देंगे। स्वास्थ्य की बात की जाए तो सर्दी-जुकाम जैसी छोटी-मोटी बीमारियों के अलावा आपको और कोई परेशानी इस गोचर से नहीं होगी।शुरुआत में चन्द्रमा आपकी राशि के दशम भाव में होंगे इसके बाद एकादश भाव से होते हुए आपके द्वादश भाव में और फिर अंत में लग्न यानी प्रथम भाव में गोचर कर जाएंगे। इसके साथ ही इस दिन सूर्य देव भी आपकी राशि से पंचम भाव में गोचर करेगा। शुरुआत में जिस वक़्त चंद्र देव आपके दशम भाव में होंगे उस वक़्त आपको अपने भाग्य का पूरा साथ मिलेगा 

कर्क, वृश्चिक, मकर राशि :

एक स्वार्थी इंसान से बचने की पूरी कोशिश करें, क्योंकि वह आपको तनाव दे सकता है। अनुमान नुक़सानदेह साबित हो सकता है – इसलिए हर तरह का निवेश करते वक़्त पूरी सावधानी बरतें। अपने सामाजिक जीवन को दरकिनार न करें। अपनी व्यस्त दिनचर्या में से थोड़ा-सा समय निकालकर अपने परिवार के साथ किसी आयोजन में शिरकत करें। यह न सिर्फ़ आपका दबाव कम करेगा, बल्कि आपकी झिझक भी मिटा देगा। यदि कोई समस्या है तो उसे टालें नहीं, बल्कि जल्दी-से-जल्दी उसका समाधान ढूंढने की कोशिश करें। जीवन साथी से पूर्णरूपेण सहयोग न मिलने के कारण आप निराश हो सकते हैं। सुनी-सुनाई बातों पर आँखें मूंदकर यक़ीन न करें और उनकी सच्चाई को भली-भांति परख लें।

कमेंट बॉक्स में श्री बजरंग बली जरूर लिखे ताकि आपकी सभी मनोकामना पूरी हो सके धन्यवाद //

यह लेख पसंद आए तो नीचे दिये गए पीले बटन को दबाकर हमे फॉलो जरूर करे //



Post a Comment

0 Comments