कबीलाई देश पापुआ न्यू गिनी विश्व टी-20 क्रिकेट विश्व कप के लिए क्वालीफाई

ऑस्ट्रेलिया में आईसीसी टी-20 विश्व कप अगले साल खेला जाने वाला है. विश्व कप में यूं तो दिग्गज टीमें हिस्सा लेंगीं लेकिन कई नई टीमों को भी खेलने का हक मिलेगा जो क्वालीफाइंग दौर के मुकाबले के बाद मुख्य ड्रा में जगह बनाएंगी. विश्व कप के क्वालीफाइंग मुकाबले हाल ही में खेले गए, इनमें तो कई ऐसी टीमों ने हिस्सा लिया जिन्होंने पहले कभी विश्व कप के मुकाबले में हिस्सा नहीं लिया. कुछ ऐसी टीमों ने इस मौके का फायदा उठाने में किसी तरह की कोताही नहीं की.

ऐसी ही एक टीम है पापुआ न्यू गिनी. पापुआ न्यू गिनी ने दुबई में केन्या को 45 रन से हराकर विश्व कप के मुख्य ड्रा में जगह बनाने में सफल रहीं. इस ग्रुप की दूसरी टीम नीदरलैंड के पास इन्हें रोकने का मौका था लेकिन वे चूक गए. अगर नीदरलैंड ने स्कॉटलैंड के खिलाफ हुआ अपना मैच 12.3 ओवर्स में जीत लेती तो वह क्वॉलिफाई कर जाते. जबकि पापुआ को इंतजार करना पड़ता. विश्व कप के लिए बारह टीमें तय हो चुकी हैं जबकि चार जगहें अभी बाकी हैं.

पहले बल्लेबाजी करने उतरी पापुआ ने चार ओवर में सिर्फ 19 के स्कोर पर छह विकेट खो दिए थे. ऐसे में लगा कि वह ऑटोमेटिक क्वॉलिफिकेशन से चूक जाएंगे. लेकिन फिर नॉर्मन वनुआ ने टीम को संभाला. वनुआ ने 48 गेंदों पर स्कोर किए गए 54 रन की मदद से पापुआ ने 118 रन बनाए. जवाब में खेलने उतरी केन्या ने अच्छी शुरुआत की. पहला पॉवरप्ले खत्म होने तक उन्होंने एक विकेट पर 40 रन बना लिए थे. इसमें इरफान करीम ने 22 गेंदों पर 29 रन बनाए थे. हालांकि इसके बाद उनका पतन शुरू हुआ. कोलिंस ओबुया (दस रन) और अमन गांधी (चौदह रन) के अलावा कोई भी केन्याई दोहरे अंक तक नहीं पहुंच पाया. पापुआ के लिए असद वाला ने सात रन दे कर तीन विकेट लिए जबकि नोसैना पोकाना ने 21 रन देकर तीन विकेट चटकाए. केन्या की टीम 73 रनों पर ऑलआउट हो गई.

पापुआ न्यू गिनी एक द्वीपीय देश है और यह कुल 462,840 वर्ग किलोमीटर एरिया वाला यह देश दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा द्वीपीय देश है. पापुआ दुनिया के सबसे ज्यादा सांस्कृतिक विविधताओं वाले देशों में एक है. यह दुनिया में सबसे ज्यादा ग्रामीण इलाकों वाले देशों में भी है. पापुआ की सिर्फ 18 फीसद आबादी शहरी इलाकों में रहती है. यहां कुल 851 ज्ञात भाषाएं हैं जिनमें से दस से ज्यादा ऐसी हैं जिन्हें बोलने वाला कोई नहीं बचा है. कुल अस्सी लाख से ज्यादा आबादी वाले इस देश के ज्यादातर लोग कबीलाई संस्कृति में रहते हैं. यह कबीले इनकी भाषाओं की तरह विविधता से भरे हैं. यह सांस्कृतिक और भौगोलिक रूप से दुनिया के सबसे कम खोजे गए देशों में से एक है. (क्रिकेट पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).



Post a Comment

0 Comments