क़ुरान जलाए जाने पर पाकिस्‍तान ने नार्वे के राजदूत को समन भेजा

इस्‍लामाबाद। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा है कि उन्होंने नॉर्वे के राजदूत को समन भेजकर क़ुरान जलाए जाने को लेकर विरोध जताया है.
नॉर्वे के कृस्चनस्टैड शहर में इस्लाम विरोधी रैली के दौरान क़ुरान को अपवित्र करने का मामला सामने आया था. पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने अपने बयान में कहा है, ”पाकिस्तान इसकी कड़ी भर्त्सना करता है. ऐसी चीज़ें बार-बार दोहराई जा रही हैं. ऐसी हरकतों से दुनिया भर में बसे 1.3 अरब मुसलमानों की भावना आहत हुई है और इनमें पाकिस्तानी भी शामिल है. ऐसी हरकतों को अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर स्वीकार नहीं किया जाएगा.”
पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा कि पिछले हफ़्ते नॉर्वे में जिस व्यक्ति ने ऐसा किया है उसके ख़िलाफ़ कड़ी कार्यवाही की जाए. पाकिस्तान में इसे लेकर कई शहरों में विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गए थे. सोशल मीडिया पर वो वीडियो वायरल हो गया था, जिसमें दिख रहा है कि एक व्यक्ति क़ुरान को जलाने की कोशिश कर रहा है.
इस वीडियो में एक मुसलमान युवक कूदकर उसे धक्का देता दिखा और उसने उसे कुरान जलाने से रोकने की कोशिश की. उस युवक की चौतरफ़ा प्रशंसा हो रही है.
पाकिस्तान में उस मुस्लिम युवक को किसी हीरो की तरह देखा जा रहा है. पाकिस्तान ने नॉर्वे से कहा है कि वो भविष्य में ऐसी घटनाओं के साथ सख़्ती से निपटे. पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा है कि नॉर्वे में पाकिस्तान के राजदूत से कहा गया है कि वो अपना विरोध नॉर्वे की सरकार के सामने दर्ज कराएं.
नॉर्वे में 16 नवंबर को ‘नॉर्वे का इस्लामीकरण रोको’ नाम की एक रैली हुई थी. इसी रैली में हाथापाई हो गई और इसी दौरान एक व्यक्ति ने क़ुरान जलाने की कोशिश की थी. बाद में यह रैली हिंसक हो गई.
वीडियो में क़ुरान जलाने की कोशिश जो व्यक्ति कर रहा है वो स्टॉप इस्लामाइजेशन ऑफ नॉर्व का ही नेता है. उनका नाम है लार्स थॉर्सन. इस रैली के बाद नॉर्वे के मुस्लिम नेताओं ने ‘स्टॉप इस्लामाइजेशन ऑफ नॉर्व’ को लेकर पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी. नॉर्वे टुडे के अनुसार इस धड़े ने पहले ही क़ुरान जलाने की घोषणा कर दी थी. हालांकि पुलिस ने इसे लेकर चेताया था.
नॉर्वे टुडे से मुस्लिम यूनियन यूथ के नेता उमर सादिक़ ने कहा, ”लार्स को जो करना था, उसने कर दिखाया. उसने पुलिस को धोखा दिया है. लार्स ने ऐसा कर तनाव पैदा किया है.” उधर पाकिस्तान आर्मी के प्रवक्ता आसिफ़ ग़फ़ूर ने उस वीडियो को ट्वीट कर मुस्लिम युवक की तारीफ़ की है जिसने क़ुरान को जलने से बचाने की कोशिश की.
उन्होंने अपने ट्वीट में कहा है, ”बेहद निंदनीय हरकत को बहादुरी से रोकने के लिए इलियास को सलाम. इस तरह के इस्लामफ़ोबिया ग्रस्त उकसावे से नफ़रत और अतिवाद को ही बढ़ावा मिलेगा. सभी धर्मों का आदर होना चाहिए. इस्लामफोबिया वैश्विक शांति और सद्भावना के लिए ख़तरा है.”
-BBC

The post क़ुरान जलाए जाने पर पाकिस्‍तान ने नार्वे के राजदूत को समन भेजा appeared first on Legend News.



Post a Comment

0 Comments