आईएनआरसी के चौथे दौर में रोमांचक मुकाबला होने की उम्मीद

के-1000 रैली नाम से मशहूर चैंपियंस याच क्लब एफएमएससीआई इंडियन नेशनल रैली चैंपियनशिप के चौथे दौर का आगाज शनिवार को होगा. इसमें कुछ पुराने प्रतिद्वंद्वी एक दूसरे को टक्कर देते नजर आएंगे. एमआरएफ द्वारा समर्थित आईएनआरसी चैंपियनशिप लीडर फेबिद अहमर और आईएनआरसी-4 टॉपर वैभव मराठे अपने-अपने वर्ग में काफी आरायमदायक स्थिति में हैं और ये दोनों बड़े आराम से टॉप पर रहते हुए सीजन का समापन करना चाहेंगे. 

टीम चैंपियंस के दिग्गज चालक फेबिद अपने साथी चालक सनथ जी के साथ आईएनआरसी-3 क्लास में भी लीड कर रहे हैं. इससे उनकी रेड टीम को स्वीप का मौका मिल सकेगा. फेबिद को हालांकि जेके टायर के कुछ चालकों से सावधान रहना होगा. डीन मास्कारेनहास अपने साथी चालक श्रुप्था पाडीवाल 42 अंकों के साथ फेबिद से सात अंक पीछे हैं. अब ये दोनों शेष बचे दो दौर में अपनी पकड़ मजबूत करने की कोशिश करेंगे.

डीन आईएनआरस-2 कटेगरी में 65 अंकों के साथ टॉप पर हैं और वह इस सीजन में जेके के लिए यह ट्रॉफी जीतना चाहेंगे. उनके पीछे उनकी ही टीम के यूनुस इलियास हैं, जिनके खाते में 42 अंक हैं. ये दोनों सीजन में पहला और दूसरा स्थान हासिल कर सकते हैं. आईएनआरसी के प्रोमोटर वाम्सी मेर्ला ने कहा कि इस दौर में भी 56 चालकों की मजबूत फौज है. यह एक रिकार्ड है. हर वर्ग में कड़ी प्रतिस्पर्धा है. इन सबको दो मजबूत स्पोटर्स का साथ मिला है. यही मोटर स्पोर्ट्स की सुंदरता है.

फेबिद और डीन हालांकि अपनी नजरें महेंद्रा एडवेंचर के चालक गौरव गिल पर लगाए रखेंगे. अर्जुन पुरस्कार विजेता गिल अपने साथी चालक मूसा शरीफ के साथ आईएनआरसी खिताब बचाने का अपना मुहिम फिर से पटरी पर लाना चाहेंगे. हालांकि ऐसा करना गिल और मूसा के लिए आसान नहीं होगा. गिल और मूसा 22 अंकों के साथ पांचवे स्थान पर हैं. अभी दो दौर बाकी हैं और ये जोड़ीदार लीडरों से 27 अंक पीछे हैं.

खराब समय से गुजर रहे देश के अग्रणी रैली चालक गिल को उम्मीद है कि वह के-1000 रैली के माध्यम से फिर से जीत की पटरी पर लौट सकेंगे. गिल ने कहा कि मैने के-1000 में हमेशा ड्राइविंग का लुत्फ लिया है. मैं इस रैली का लुत्फ लेना चाहूंगा और अश है कि इस सप्ताहांत मेरे लिए चीजें अच्छी सूरत लेंगी. के-1000 रैली ग्रावेल पर होगी और इसके तहत स्पेशल स्टेजेज में 125 किलोमीटर का एरिया कवर किया जाएगा. इसमें 56 टीमें हिस्सा ले रही हैं और इस तरह इस रैली में कड़ी प्रतिस्पर्धा देखने को मिलेगी.



Post a Comment

0 Comments