राफेल सौदे पर क्लीन चिट मिलते ही स्मृति ईरानी ने तोड़ा मौन, बोलीं कांग्रेस पार्टी...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान कांग्रेस पार्टी ने कई मुद्दों को जोर-शोर से उछाला था। इन मुद्दों में राफेल सौदे का भी मुद्दा था। इस मुद्दे पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने चौकीदार चोर है का नारा भी दिया था। हालांकि गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने राफेल सौदे पर बड़ा फैसला लेते हुए पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया और मोदी सरकार को क्लीन चिट दे दी। सरकार को क्लीन चिट मिलते ही स्मृति ईरानी ने भी अपना मौन तोड़ दिया और बड़ा बयान दे दिया है।

कोर्ट ने राहुल गांधी को भी दे दी राहत

उच्चतम न्यायालय ने गुरुवार को राफेल सौदे को लेकर बड़ा फैसला सुना दिया। कोर्ट ने अपने साल 2018 के आदेश को ही बरकरार रखा और साफ कर दिया कि इस केस में दोबारा विचार की कोई जरूरत नहीं है। इतना ही नहीं कोर्ट ने राहुल गांधी को भी अवमानना से जुड़े मामले में क्लीन चिट दे दी। आपको बता दें कि राहुल ने सुप्रीम कोर्ट का नाम लेकर कहा था कि कोर्ट ने भी मान लिया है कि चौकीदार चोर है। हालांकि बाद में राहुल ने माफीनामा दिया जिसको कोर्ट ने स्वीकार कर लिया।

जानें क्या बोलीं स्मृति ईरानी

राफेल सौदे पर मोदी सरकार को कोर्ट से क्लीन चिट मिलते ही भाजपा नेताओं के बयान आने शुरू हो गए हैं। भाजपा मंत्री स्मृति ईरानी ने भी ट्विटर पर अपना मौन तोड़ दिया है। स्मृति ने कहा कि कोर्ट ने एक बार फिर से राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर प्रधानमंत्री मोदी और सरकार के संकल्प को पुष्ट कर दिया है। स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी झूठ फैलाना बंद करेंगे, अब यही उम्मीद है। इसके साथ ही कांग्रेस को देश की सुरक्षा में सकारात्मक योगदान देने की सलाह दे दी।

दोस्तो आपको क्या लगता है स्मृति ईरानी का बयान कैसा है, कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें। हर अपडेट के लिए आप मुझे फॉलो जरूर करें। धन्यवाद।।

(न्यूज सोर्स- abpnews.abplive.in, twitter.com)



Post a Comment

0 Comments