राफेल मामले पर फैसला आते ही राहुल गांधी पर भड़क उठे लोग, बोले- देश की जनता को...

गूगल

सर्वोच्च न्यायालय ने आज राफेल लड़ाकू विमान सौदा मामले में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी सरकार को बड़ी राहत दी है। सर्वोच्च न्यायालय ने इस मामले में फैसला सुनाते हुए कहा कि पुनर्विचार याचिका सुनवाई योग्य नहीं है। ऐसे में सर्वोच्च न्यायालय ने 14 दिसंबर 2018 के फैसले पर पुनर्विचार करने की मांग वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया है।

गूगल

आपको बता दें कि हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या में राम मंदिर मामले को लेकर ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ कर दिया है और अब राफेल मामले को लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया है। जानकारी के लिए बता दें कि सर्वोच्च न्यायालय ने 14 दिसंबर, 2018 के फैसले में कहा था कि 36 राफेल लड़ाकू विमानों को खरीदने में निर्णय निर्धारण की प्रक्रिया पर संदेह करने की कोई बात नहीं है।

ट्विटर डॉट कॉम

राफेल मामले पर सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आते ही कांग्रेस के अनुभवी नेता राहुल गांधी ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश जोसेफ ने राफेल घोटाले की जांच में बड़ा रास्ता खोल दिया है। साथ ही राहुल गांधी ने इस मामले पर जांच करने की बात कही और कहा कि इस मामले की जांच के लिए एक संयुक्त संसदीय कमेटी बनाई जानी चाहिए। राफेल मामले पर फैसला आते ही राहुल गांधी के इस बयान पर लोग भड़क उठे। एक यूजर ने जवाब देते हुए कहा कि,"सर्वोच्च न्यायालय में राफेल मामले पर राहुल गांधी झूठे साबित हुए हैं। राहुल गांधी ने सर्वोच्च न्यायालय में लिखित में माफी मांगी है। राहुल गांधी को देश की जनता को गुमराह करने का कोई अधिकार नहीं है।"

ट्विटर डॉट कॉम

(सोर्स- Rahul Gandhi official twitter account)



Post a Comment

0 Comments