जानिये क्यों स्पेक्ट्रम की अधिक कीमतें भारत के 5जी लक्ष्य प्राप्ति की राह में हो सकती हैं सबसे बड़ा रोड़ा

हालांकि डीसीसी के फैसले को केंद्रीय कैबिनेट से मंजूरी की आवश्यकता होगी। अगर नीलामी वर्तमान दरों पर ही होती है, तो इस बात की पूरी संभावना है कि अधिकांश टेल्को इसका अधिक मूल्य देखते हुए इसमें भाग न ले।

Post a comment