अमेरिका: आतंकवाद पर सख्ती करे पाकिस्तान

भारत और अमरीका के बीच वाशिंगटन में हुई दूसरी 2+2 वार्ता के बाद दोनों देशों ने साझा बयान जारी किया है। इसमें दोनों देशों के रक्षा और विदेश मंत्रियों ने आतंकवाद के सभी रूपों की निंदा करते हुए अलक़ायदा, आईएसआईएस, लश्कर-ए-तैय्यबा, जैश-ए-मोहम्मद, हक़्क़ानी नेटवर्क, हिज़्बुल मुजाहिद्दीन और डी-कंपनी समेत सभी आतंकी संगठनों के ख़िलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात की।

बयान में पाकिस्तान से यह सुनिश्चित करने को कहा गया कि उसकी ज़मीन से किसी भी देश के ख़िलाफ कोई भी आतंकवादी गतिविधि संचालित न हो। इसके साथ ही दोनों देशों ने पाकिस्तान से 26/11 मुंबई हमला और पठानकोट हमला समेत तमाम सीमापार आतंकी हमलों के गुनहगारों की गिरफ्तारी और उनके ख़िलाफ कार्रवाई करने को कहा।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में जैशे सरगना मसूद अजहर और अन्य को आतंकवादी करार देने के लिए अमेरिकी समर्थन की सराहना की। अमेरिका ने भी भारतीय कानून में उन बदलावों का स्वागत किया जो आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष में सहयोग को बढ़ावा देंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि दोनों मंत्रियों ने अमेरिकी राष्ट्रपति से भी मुलाकात कर भारत-अमेरिका संबंधों को और अधिक मजबूत बनाने पर चर्चा की।



Post a Comment