ब्राजील के पूर्व राष्ट्रपति लुला पर भ्रष्टाचार का नया मामला

रियो डी जनेरियो। ब्राजील की संघीय पुलिस ने भ्रष्टाचार के एक अन्य मामले में गुरुवार को पूर्व राष्ट्रपति लुइज इनासिओ लुला दा सिल्वा को दोषी ठहराया। इस मामले में पूर्व राष्ट्रपति के पद छोडऩे के बाद उनके द्वारा स्थापित लुला संस्थान को निर्माण कंपनी ओडेब्रेच की ओर से दिये गये दान राशि में धांधली का आरोप लगाया गया है। संघीय पुलिस के अनुसार दिसंबर 2013 और मार्च 2014 में दिये गये दान की राशि 10 लाख डालर है, जिसे ओडेब्रेच खाते से रिश्वत देने के लिए उपयोग किया गया है।

पूर्व राष्ट्रपति के साथ ही लुला संस्थान के प्रमुख पाउलो ओकामोटो और पूर्व वित्त मंत्री एंटोनियो पालोस्की पर भी भ्रष्टाचार और धन शोधन के आरोप लगाए गए थे। बचाव पक्ष के वकीलों ने कहा कि ऐसे आरोपों को कोई आधार नहीं है। उन्होंने कहा लूला वर्षों से इस पद पर नहीं है। रिश्वत का भुगतान तब किया गया जब वह इस पर नहीं थे। लुला को कार्यकाल वर्ष 2010 में समाप्त हो गया था।

लुला के वकीलों ने कहा दान एक सामान्य और नियमित प्रक्रिया है जिसकी पहचान किसी मूल और उससे संबद्ध प्रतिबद्धता से नहीं की जा सकती। उन्हेांने जोर देकर कहा कि लूला को नहीं , बल्कि संस्थान को दान दिया गया था और यह संस्थान ब्राजील की सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित करने वाला हिस्सा है। पूर्व राष्ट्रपति ने सुपीरियर कोर्ट ऑफ जस्टिस और एसटीएफ से न्याय करने की अपील की है। -(एजेंसी)



Post a Comment