नागरिकता कानून के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा, ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन, असम गण परिषद, ऑल असम लॉयर्स एसोसिएशन, रिहाई मंच व अन्य की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा। इस मामले में अब तक 50 से ज़्यादा याचिका दायर हो चुकी हैं। इन सभी याचिकाओं में नए कानून की वैधानिकता को चुनौती दी गई है और इस पर रोक लगाने की मांग की गई है।

16 दिसंबर को महुआ मोइत्रा के वकील ने अदालत से जल्द सुनवाई की मांग की थी जिस पर प्रधान न्यायाधीश एस. ए. बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा था वह अन्य लंबित याचिकाओं के साथ इन याचिकाओं पर 18 दिसंबर को सुनवाई करेगा। संसद के दोनों सदनों से पारित होने के बाद 12 दिसंबर को राष्ट्रपति ने भी नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी दे दी थी।



Post a comment