असम: नेशनल डेमोक्रोटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड के 1500 से ज्यादा उग्रवादियों ने किया आत्मसमर्पण

असम समेत पूर्वोत्तर राज्यों के लिए आज ऐतिहासिक दिन है। गुवाहाटी के आज जीएमसी सभागार में नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड के तमाम गुटों के काडर्स ने हथियारों के साथ आत्मसमर्पण कर दिया। करीब डेढ़ हजार से अधिक काडर्स ने असम की सरकार और पुलिस के सामने हथियार डाले और संकल्प लिया कि वे असम में समाज की मुख्य धारा में शामिल होकर विकास के रास्ते में सहभागी बनेंगे।

दरअसल, असम में पिछले लंबे समय से अलग बोडोलैंड की मांग करने वाले हाल ही में चार गुटों ने हिंसा का रास्ता छोड़ने का फैसला लिया और 27 जनवरी को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी में असम सरकार के साथ NDFB ने समझौता किया। बहरहाल, इतनी बड़ी संख्या में हथियारों के साथ समर्पण के बाद असम में शांति स्थापना की उम्मीदों को बल मिला है।

 

 



Post a Comment