हनी ट्रैप में इस्तेमाल हो रही हैं ऐक्ट्रेस

 
मुंबई

हनी ट्रैप्स के लिए तीन सटोरियों ने बॉलिवुड की एक अभिनेत्री का इस्तेमाल किया। इस अभिनेत्री ने दो क्रिकेटरों से दोस्ती भी बढ़ाई, ताकि ड्रेसिंग रूम की सूचनाएं उसे मिल सकें। लेकिन यह अभिनेत्री अपने प्रयास में सफल नहीं हो पाई। संयोग से जिस वक्त यह खबर बाजार में आई, उसके अगले दिन मुंबई पुलिस की समाज सेवा शाखा ने अंधेरी के सात बंगले में रेड डाली। वहां से दो लड़कियां रेसक्यू कराई गईं। इनमें एक अभिनेत्री भी है, जिसने पिछले महीने रिलीज हुई बॉलिवुड की एक फिल्म में छोटा सा रोल किया था। पुलिस ने इस केस में नवीन कुमार नामक दलाल को गिरफ्तार किया है। सीनियर इंस्पेक्टर संदेश रेवले ने बताया कि इस केस में एक आरोपी फरार है, जो दिल्ली का बताया जाता है।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि जिस अभिनेत्री को रेसक्यू कराया गया, उसने 60 हजार रुपये एक रात का सौदा तय किया था। इनमें से 50 प्रतिशत रकम दलाल को मिलती। अभिनेत्री को रकम देने के अलावा ग्राहक को होटल के कमरे का रेंट व खाने पीने का पेमेंट भी देना होता है। पिछले सप्ताह भी मुंबई में इस तरह की कई छापेमारी हुई हैं। उनमें भी कुछ मॉडल्स, अभिनेत्री रेसक्यू कराई गई थीं। एक केस में एक ग्राहक ने एक लड़की के लिए 21 हजार रुपये में होटल का कमरा बुक कराया था।
 
'देह व्यापार में कई बड़ी ऐक्ट्रेस भी शामिल'
अमूमन जब ट्रैप लगता है, तो पुलिस ही फर्जी कस्टमर तैयार करती है और पुलिस ही दलाल को अडवांस में रकम देती है। पुलिस अपने खर्च पर होटल भी बुक करती है। एक अधिकारी के अनुसार, हमें मालूम है कि कुछ बड़ी अभिनेत्रियां भी देह व्यापार के रैकेट में शामिल हैं। पर चूंकि उनके रेट हजारों में नहीं, लाखों में होते हैं, इसलिए पुलिस अडवांस में इतनी रकम देकर बड़ा ऑपरेशन करने का जोखिम नहीं उठा पाती।

जब पांच करोड़ लेकर भी अभिनेत्री स्विट्जरलैंड नहीं गई
एक बार एक सीनियर आईपीएस अधिकारी ने बॉलिवुड की एक नामचीन अभिनेत्री का किस्सा एनबीटी को सुनाया था। इस अभिनेत्री को एक बिल्डर ने पांच करोड़ रुपये अडवांस में दिए। इस अभिनेत्री की बताई तारीख पर बिल्डर ने स्विट्जरलैंड में होटल में कमरा बुक करा लिया। बाद में वह अभिनेत्री स्वीट्जरलैंड गई ही नहीं। बिल्डर इस पर आग बबूला हो गया। उसने अभिनेत्री से अडवांस में दी गई रकम मांगी। अभिनेत्री ने दी नहीं। बाद में बिल्डर ने डी कंपनी में कॉल किया। डी कंपनी के एक सरगना की तरफ से उस अभिनेत्री को कुछ दिन बाद कॉल आया। अभिनेत्री ने फिर भी बिल्डर से अडवांस ली गई रकम लौटाने से इनकार कर दिया। बाद में उस सरगना ने कहा कि अगर तुम बिल्डर को रकम नहीं दोगी,तो तुम्हें हमारे पास आना होगा। बाद में वह अभिनेत्री उस सरगना के बुक कराए होटल में विदेश गई थी। एक डिपोर्ट किए गए अंडरवर्ल्ड आरोपी ने यह बात उस आईपीएस अधिकारी को तब बताई थी, जब वह क्राइम ब्रांच में थे। यह वह दौर था, जब बॉलिवुड में फिल्में बिना अंडरवर्ल्ड कनेक्शन के मिलती ही नहीं थीं।

कास्टिंग डायरेक्टर के जरिए देह व्यापार
पुलिस सूत्रों के अनुसार, किसी फिल्म में काम मिले या न मिले, इसमें कास्टिंग डायरेक्टर की बहुत महत्चपूर्ण भूमिका होती है। वह ही किसी लड़की का पहला ऑडिशन लेता है। बाद में वह मूल डायरेक्टर या प्रोड्यूसर तक लड़की को फाइनल ऑडिशन के लिए ले जाता है। बुधवार को पुलिस ने ऐक्ट्रेस को रेसक्सू कराते वक्त जिस दलाल नवीन कुमार को गिरफ्तार किया है, वह भी पेशे से कास्टिंग डायरेक्टर ही है। उसने व रेसक्यू कराई गई अभिनेत्री ने पूछताछ में बताया कि बॉलिवुड में अपना स्टेट्स मेनटेन के खर्च बहुत होते हैं। हर लड़की को फिल्म में बड़ा रोल मिलता नहीं है। इसलिए उसे पेमेंट भी उस हिसाब से मिलता नहीं है। लेकिन कुछ कास्टिंग डायरेक्टर कुछ लड़कियों को बड़ा रोल दिलाने का झांसा देते रहते हैं और फिर उसे देह व्यापार में झोंक देते हैं। कुछ दलाल या बुकी ऐसी लड़कयों का हनी ट्रैप के लिए भी इस्तेमाल करते हैं।
 



Post a comment