न्यूज़ीलैंड ने तीसरे वनडे में भारत को 5 विकेट से हराया, जीत के सीरीज़ 3-0 से की अपने नाम

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच वनडे सीरीज का अंतिम एकदिवसीय मुकाबला  बे-ओवल में खेला गया। जिसे न्यूजीलैंड ने 5 विकेट से अपने नाम कर लिया,  इस तरह न्यूजीलैंड ने सीरीज 3-0 से ह्वाइटवाश करते हुए अपने नाम कर लिया।

भारत द्वारा जीत के लिए रखे गये 297 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरूआत बेहद शानदार रही गप्टिल और निकल्स ने पहले विकेट के लिए 106 रन जोड़े। गप्टिल 66रन बनाकर आउट हुए.. अच्छी बल्लेबाजी कर रहे कप्तान केन विलियम्सन 22 रन बनाकर चहल की गेंद पर मयंक अग्रवाल द्वारा कैच आउट हो गये।

रॉस टेलर कुछ खास नही कर सके और केवल 12 रन बनाकर जडेजा की गेंद प र विराट कोहली को कैच थमा बैठे। हैनरी निकल्स एक छोर पर डटे रहे और 80 रन बनाकर न्यूजीलैंड की स्थिति मजबूत कर दी उन्हे शार्दुल ठाकुर ने के एल राहुल के हाथों पवैलियन भेजा। लेकिन अंत में टॉम लेथम और कोलिन ग्रैंडहोम ने बेहतरीन बल्लेबाजी कर न्यूजीलैंड को जीत के दरवाजे तक पहुंचा दिया। भारत की तरफ से यजुवेंद्र चहल ने 3 विकेट झटके।

इससे पहले टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारत की शुरूआत अच्छी नहीं रही और ओपनर मयंक अग्रवाल 1 रन पर काइले जेमियेसन के रूप में अपना पहला विकेट गंवा दिया। इसके थोड़े ही देर बार भारतीय कप्तान विराट कोहली भी 9 रन बनाकर पवैलियन लौट गए । पृथ्वी शॉ ने श्रेयस अय्यर के साथ मिलकर पारी को संभआलने की कोशिश की और तेजी से रन बनाए। हालाकी 2 रन लेने की कोशिस में पृथ्वी शॉ 40 के स्कोर पर रन आउट हो गए।

इसके बाद श्रेयस अय्यर और के.एल.राहुल ने मिलकर रन बनाना जारी रखा और चौथे विकेट के लिए 100 रन की साझेदारी निभाई। श्रेयस अय्यर अर्धशतक लगाने के बाद 62 रन बनाकर आउट हुए। राहुल ने इसके बाद मनीष पांडे का साथ मिलकर 107 रन की पार्टनरशिप की। इसी बीच राहुल ने अपना चौथा वनडे शतक पूरा किया। वो 112 रन बनाकर आउट हुए। मनीष पांडे ने 42 रन की पारी खेली। इस तरह भारत ने निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट पर 296 रन बनाए।



Post a comment