राष्ट्रपति ने तेलंगाना में रामचंद्र मिशन के नवनिर्मित ध्यान केंद्र का किया उद्घाटन

कान्हा शांति वनम् में 30 एकड़ में बने इस केंद्र में एक साथ एक लाख लोग ध्यान कर सकते हैं. रामकृष्ण मिशन के 75वें वार्षिकोत्सव समारोह में भाग लेते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि भारतीय पंरपरा के अनुसार परमात्मा और परोपकार आपस में एक-दूसरे से संबंधित हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि वसुधैव कुटुम्बकम् के सिद्धांत पर चलते हुए रामचन्द्र मिशन देश और दुनिया के लिए काम कर रहा है.

राष्ट्रपति ने कहा कि आज दुनिया में चारों ओर अशांति एवं असुरक्षा की भावना है. ऐसे में रामचन्द्र मिशन जैसे संस्थानों की जिम्मेदारी है कि वो अपने कार्यों एवं सिद्धांतों से देश और दुनिया के विकास एवं शांति के लिए काम करें.



Post a comment