छत्तीसगढ़ सरकार के शराब बेचने के खिलाफ याचिका मंजूर



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="6745940556"
data-ad-format="auto">


बिलासपुर। छत्तीसगढ़ सरकार से शराब बेचे के उदीम के विरोध करत मनखे मन ल थोकिन सफलता हाथ लगे हावय। सरकार के शराब बेंचई के खिलाफ लगे जनहित याचिका ल बिलासपुर हाईकोर्ट ह स्वीकार कर ले हावय। ममता शर्मा के याचिका म दो जज मन के बेंच ह सरकार ल ए मामले म नोटिस जारी करे हावय। याचिका म अनुच्छेद 47 के उल्लंघन के शिकायत करे गए हे। सुप्रीम कोर्ट ले हाईवे ले शराब दुकान हटाए के आदेश पारित होए रहिस हे तेखर बाद प्रदेश सरकार ह एखर ले होवइया नुकसान के भरपाई बर शराब दुकान के संचालन के जिम्मेदारी निगम के हवाले करे के निर्णय लीस हे। एखर खातिर छत्तीसगढ़ आबकारी (संशोधन) अध्यादेश 2017 घलोक लाय के निर्णय ले गीस हवे।
सरकार के तर्क रहिस के देसी अउ विदेशी मदिरा दुकान मन के राजस्व ल सुरक्षित रखे अउ राज्य के जनता के स्वास्थ्य के हित के दृष्टि से दुनों मदिरा के फुटकर विक्रय के अधिकार सार्वजनिक उपक्रम ल दे जाही। दूरदराज के इलाका म शराब दुकान मन बर ठेकेदार नइ मिलए, निगम के गठन होए ले ये समस्या दूर हो जाही। सरकार के ए निर्णय के खिलाफ प्रदेशभर म विरोध शुरू हो गए हे।


style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">



style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Post a Comment

0 Comments