छत्तीसगढ़ मं लगय राष्ट्रपति शासन : कांग्रेस






रायपुर : छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिला म नक्सली हमला मं 25 जवानों के शहीद होए के घटना के बाद राज्य के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस हर राज्य सरकार ल भंग करके राष्ट्रपति शासन लगाय के मांग करे हावे। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल हर बयान जारी करके सुकमा जिला के बुरकापाल इलाका मं नक्सली वारदात म सीआरपीएफ के 25 जवान के शहादत ल नक्सली मन के घिनौना हरकत बताय हावे।
उमन ए घटना बर मुख्यमंत्री रमन सिंह के नेतृत्व वाले भाजपा सरकार ल जिम्मेदार ठहराए हें। भूपेश बघेल हर कहे हे कि सरकार के मुखिया होए के नाते मुख्यमंत्री रमन सिंह बस्तर म होवत सरलग नक्सली वारदात मन बर अपन जिम्मेदारी ले कोनो उदीम ले बच नई सके। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष हर राज्य सरकार उपर नक्सली अभियान बर मिले केंद्रीय सरकारी संसाधन मन के सही उपयोग नइ करे के आरोप लगाए हे। उमन कहिन हे कि जवान मन के मदद बर तुरते हेलीकाप्टर के मदद नइ लेहे गीस। उहें तीरेच म सीआरपीएफ के कोबरा बटालियन के शिविर होए के बावजूद तुरते बैकअप नइ दे गीस जेखर चलते अतका बड़ संख्या मं जवान मन के जान गीस।
उमन कहिन कि, सरकार बतावय कि बस्तर के संवेदनशील नक्सली क्षेत्र मं कतका जिला पुलिस बल, इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर, हेड कांस्टेबल, कांस्टेबल अउ कतेक संख्या मं महिला पुलिस बल तैनात हे। केवल सीआरपीएफ के बदौलत कानून व्यवस्था के स्थापना नइ करे जा सके। बघेल हर कहिस कि राज्य सरकार अऊ अधिकारी मन के लड़ाई के खामियाजा आम लोगन अऊ जवान मन ल उठाना पड़त हे। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष हर कहिस कि वो राष्ट्रपति ले छत्तीसगढ़ मं बिना देरी करे राष्ट्रपति शासन लगाए के मांग करें हें।




style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">



style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Post a Comment

0 Comments