पादप प्रजनक डॉ. जॉनसन रिसर्च एवार्ड-2017 ले सम्मानित


  • दलहन फसल मन मं उल्लेखनीय अनुसंधान के काम बर मिलीस सम्मान


रायपुर, 18 मई 2017। शासकीय कृषि महाविद्यालय रायपुर के आनुवांशिकी अउ पादप प्रजनन विभाग के पादप प्रजनक डॉ. पी.एल. जॉनसन ल नेपाल मं पाछू हफ्ता आयोजित अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी मं सर्टिफिकेट ऑफ मेरिट-एक्सिलेन्स ए रिसर्च एवार्ड-2017 ले सम्मानित करे गीस। डॉ. जॉनसन ल पाछू 12 बछर ले दलहनी फसल मन-चना, मूंग, उड़द, मटर आदि मं उल्लेखनीय अनुसंधान काम बर ये सम्मान मिले हे। डॉ. जॉनसन हर इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय ले विकसित इंदिरा चना-1, इंदिरा उडद-1, अउ इंदिरा मटर-1 के विकास मं सक्रिय योगदान देहे हे। डॉ. जॉनसन के नेतृत्व मं चना के नवा किसिम इंदिरा चना-2 विकसित करे के प्रक्रिया चलत हे। ए अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी मं विश्वविद्यालय के तीन आन वैज्ञानिक मन डॉ. जीवन लाल नाग, डॉ. ललित रामटेके अउ श्री एस.एस. पोर्ते ल घलोक सम्मानित करे गीस।
आप मन जानतेच होहू कि डॉ. जॉनसन हर 5जी इन्टरनेशनल कोर्स ऑन सीड जउन बैंक मेनेजमेन्ट एण्ड प्लान्ट एण्ड मेक्रो फंगस जेनेटिक रिर्सोसेस मं हिस्सा लेहे रहिन। ये अयोजन इन्टरनेशनल एग्रीकल्चर रिसर्च ट्रेनिंग सेन्टर इजमिर, टर्की मं 8 ले 12 मई 2017 तक होय रहिस। ए आयोजन मं अंदाजन सात देश मन के 10 वैज्ञानिक मन हर विशेष प्रशिक्षण लीन। ए आयोजन मं डॉ. जॉनसन हर छत्तीसगढ़ राज्य अउ भारत देश मं दलहन अनुसंधान म विशेष प्रकाश डालिन अउ दलहन उत्पादन तकनीक के बारीकी मन ल विस्तार से बताइन। येमां बांग्लादेश, इजिप्ट, मोरक्को, अलजीरिया, अजरबेजान, सूडान अउ टर्की के कृषि विशेषज्ञ संघरे रहिन।
उन्नत कृषि तकनीक खातिर किसान मन ल प्रेरित करे बर इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर से कुलपति डॉ. एस.के. पाटील के मार्गदर्शन मं डॉ. कृष्ण कुमार साहू, प्रमुख वैज्ञानिक अउ सूचना अउ जनसंपर्क अधिकारी के रचित गीत (चलौव-चलौव भई किसान) उपर आधारित वीडियो के प्रस्तुति डॉ. जॉनसन हर करिन। समारोह मं ए वीडियो के सराहना उपस्थित जम्‍मो वैज्ञानिक, अधिकारी मन अउ आयोजक संस्थान के अधिकारी मन हर करिन। जम्‍मो ह एक मत ले ए बात ल स्वीकार करिन कि ए वीडियो के माध्यम ले रोचक अउ ज्ञान वर्धक प्रस्तुति देहे गए हे। सबो देश मन के प्रतिनिधि मन ह ए प्रकार के पहल अपन देश के स्थानीय भाषा मन मं करे के मंशा जाहिर करिन।
डॉ. जॉनसन अउ आन वैज्ञानिक मन के उपलब्धि म विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एस.के. पाटील, संचालक अनुसंधान डॉ. जे.एस. उरकुरकर, अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय रायपुर डॉ. एस.एस. राव, आनुवांशिकी अउ पादप प्रजनन विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. ए.के. सरावगी, मृदा विज्ञान अउ रसायन शास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. आर.के. बाजपेयी अउ विश्वविद्यालय कुटुंब हर बधाई दीन।

Post a Comment

0 Comments