मुख्य सचिव के अध्यक्षता म शहरी आजीविका मिशन के बैठक

आजीविका मिशन के तहत कौशल प्रशिक्षण अऊ रोजगार देहे म विशेष जोर







रायपुर, 9 मई 2017। मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड के अध्यक्षता म आज इहां मत्रालय (महानदी भवन) म राज्य शहरी विकास अभिकरण के दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के कार्यकारिणी समिति के बैठक होइस। मुख्य सचिव हर बैठक म मिशन के तहत जादा ले जादा लोगन ल कौशल प्रशिक्षण देके ओ मन ल रोजगार ले जोड़े म विशेष जोर दीन। उमन राजधानी रायपुर के बुढ़ातालाब तीर बने महिला समृद्धि बाजार ल महिला स्वसहायता समूह ल देहे ल कहिन ताकि ओ मन उहां अपन उत्पाद मन के बिक्री कर सकंय। अइसनहे घड़ी चौक तीर महंत घासीदास संग्रहालय पारिसर म खाली जघा ल घलोक महिला स्वसहायता समूह मन ल देवाए के निर्देश विभागीय अधिकारी मन ल दीन। श्री ढांड हर कहिन कि आजीविका मिशन के तहत स्वरोजगार के अड़बड़ संभावना हावय, एखर खातिर सक्रियता ले काम करे के जरूरत हे। उमन बैठक म उपस्थित रायपुर अऊ महासमुंद के महिला स्वसहायता समूह मन के प्रतिनिधि मन ले ऊंखर समूह के गतिविधि मन के बारे म जानकारी लीन।
बैठक म नगरीय प्रशासन विभाग के विशेष सचिव डॉ. रोहित यादव हर प्रस्तुतिकरण के संग राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन कोति ले संचालित योजना मन अऊ उपलब्धि मन के विस्तृत जानकारी दीन। उमन बताइन कि मिशन के तहत पाछू वित्तीय साल 2016-17 म 7187 समूह मन के गठन करे गीस। एमां सदस्य मन के कुल संख्या 83 हजार 362 रहिस। समूह मन ल बैंक लिंकिग के माध्यम ले 10 करोड़ 14 लाख रूपया के ऋण दे गइस। मिशन के तहत ग्रुप म पांच करोड़ 59 लाख रूपया ऋण अऊ व्यक्तिगत 42 करोड़ 24 लाख रूपया ऋण दे गीस। डॉ. यादव हर बताइस कि मिशन के तहत पाछू वित्तीय साल 2016-17 म 18 हजार 443 लोगन ल प्रशिक्षण दे गीस अऊ पांच हजार 858 लोगन ल प्लेसमेंट के संग रोजगार दे गीस। बैठक म अपर मुख्य सचिव पंचायत अउ ग्रामीण विकास श्री एम.के. राउत, प्रमुख सचिव श्रम श्री आर.पी. मण्डल, प्रमुख सचिव वित्त श्री अमिताभ जैन, प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा श्रीमती रेणु पिल्ले, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अउ कुटुंब कल्याण श्री सुब्रत साहू, सचिव आबकारी श्री अशोक अग्रवाल, सचिव उद्योग श्री आशीष भट्ट, सचिव महिला अउ बाल विकास डॉ. एम.गीता, सचिव सहकारिता श्री डी.डी. सिंह, सचिव आवास अउ पर्यावरण श्री संजय शुक्ला संग कई ठन बैंक मन के मुख्य प्रबंधक अउ स्वसहायता समूह मन के प्रतिनिधि उपस्थित रहिन।




style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">

Post a Comment

0 Comments