गांव-गांव घर-घर अऊ जन-जन के दिनचर्या मं सामिल होना चाही योग





[responsivevoice_button voice="Hindi Female" buttontext="ये खबर ला सुनव"]


रायपुर, 09 जून 2017। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून के तैयारी बर कल इहां छत्तीसगढ़ शासन के समाज कल्याण विभाग कोति ले आयोजित तीन दिवसीय योग प्रशिक्षण कार्यक्रम पूरा होइस। ए अवसर म समाज कल्याण विभाग के सचिव श्री सोनमणि बोरा हर कहिस कि छत्तीसगढ़ के गांव-गांव, घर-घर अऊ जन-जन के दिनचर्या मं योग ल सामिल करे जाही। प्रशिक्षण कार्यक्रम मं प्रदेश भर के 540 प्रशिक्षणार्थि मन हिस्सा लीन। ये प्रशिक्षणार्थी अपन जिला मं जाके नगर पंचायत, ग्राम पंचायत अऊ गांव मन मं जाके लोगन ल योग सिखाहीं। प्रशिक्षण कार्यक्रम के समापन अवसर म श्री सोनमणि बोरा हर प्रशिक्षणार्थी मन ल योग के गूढ़ रहस्य मन ल बताइन। उमन कहिन कि योग के बारे मं छत्तीसगढ़ शासन कोति ले एक पुस्तिका के प्रकाशन करे गए हे, जेमां योग के बारे मं महत्वपूर्ण जानकारी देहे गए हे। उमन कहिन कि पुस्तिका ल पढ़े अऊ ओमा बताए गए नियम मन के अनुसारेच योग करव। पुस्तक मं योग कब, कऊन प्रकार अऊ कईसे करना चाही एकर घलोक उल्लेख हावे। श्री बोरा ह कहिन कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून के दिन छत्तीसगढ़ मं घलोक योग दिवस के रूप मं मनाए जाही अऊ प्रदेश भर मं योग के कार्यक्रम आयोजित करे जाही। उमन समापन अवसर म कपाल भांति, अनुलोम-विलोम, कुंभक, प्राणायाम योग करिन। ए मौका म समाज कल्याण विभाग के संचालक डॉ. संजय अलंग संग पतंजलि योग समिति के सदस्य अउ प्रशिक्षार्थी मन मौजूद रहिन।




style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">



style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Post a Comment

0 Comments