आज से छत्तीसगढ़ के खबर डीटीएच म घलोक प्रसारित होही


  • मुख्यमंत्री हर प्रधानमंत्री श्री मोदी अऊ सूचना-प्रसारण मंत्री ल दीन धन्यवाद 
  • डॉ. रमन सिंह के प्रस्ताव म श्री वेंकैया नायडू ह रायपुर मं करे रहिस घोसना 
  • हर रोज रात 8 ले 8.15 तक डीडीएमपी ले प्रसारित होही छत्तीसगढ़ के प्रादेशिक खबर 
  • हर दिन मंझनिया छत्तीसगढ़ी कला-संस्कृति के कार्यक्रम घलोक डीटीएच म देखे जा सकही 
  • दूरदर्शन रायपुर ले अभी हाल मं होवत प्रसारण मन ले अकतिहा होही ये प्रसारण

रायपुर, 14 जून 2017। दूरदर्शन काल 15 जून ले छत्तीसगढ़ राज्य के कला-संस्कृति उपर आधारित कार्यक्रम मन अऊ रोज के प्रादेशिक खबर मन के प्रसारण डीटीएच म घलोक शुरू करे जावत हे। ए कार्यक्रम मन ल डीडी मध्यप्रदेश के चैनल म देखे जा सकही। डायरेक्ट-टू-होम (डीटीएच) के संग छत्तीसगढ़ के लोक संस्कृति अऊ लोक-कला उपर आधारित कार्यक्रम काल 15 तारीक ले रोज मंझनिया एक बजे ले दू बजे तक प्रसारित करे जाही। एखर संगेच हर रोज रात्रि आठ बजे ले 8.15 बजे तक छत्तीसगढ़ के प्रादेशिक खबर के घलोक प्रसारण डीटीएच म होही। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर एखर बर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी अऊ केन्द्रीय सूचना अउ प्रसारण मंत्री श्री एम. वेंकैया नायडू के प्रति आभार प्रकट करे हें। आप मन जानतेच हव कि मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के प्रस्ताव म केन्द्रीय सूचना अऊ प्रसारण मंत्री श्री नायडू ह पाछू महीना के 26 तारीक को रायपुर मं ये घोषणा करे रहिन कि रायपुर दूरदर्शन ले डीटीएच प्रसारण के तैयारी पूरा होत तक छत्तीसगढ़ के खबर मन ल भोपाल दूरदर्शन ले डीटीएच म प्रसारित करे जाही। उमन अधिकारी मन ल 15 जून तक प्रसारण शुरू करे के निर्देश देहे रहिन। दूरदर्शन केन्द्र भोपाल के उपनिदेशक श्री ए.के. तिवारी हर आज टेलीफोन म बताइस कि केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्री श्री नायडू के निर्देशानुसार भोपाल केन्द्र ले सबो तैयारी मन ल पूरा कर लेहे गए हे। उमन बताइन कि रायपुर दूरदर्शन ले सेटेलाईट के संग कार्यक्रम मन अऊ समाचार के अपलिंकिंग करे जाही। दूरदर्शन रायपुर के अधिकारी मन हर बताइन कि अभी हाल मं ऊंखर रायपुर केन्द्र ले रोजेच मंझनिया 3.00 बजे ले संझा 7.00 बजे तक चार घण्टा के कार्यक्रम प्रसारित करे जात हावे। एखर अंतर्गत संझा 6.30 ले 6.45 बजे तक छत्तीसगढ़ के प्रादेशिक समाचार के घलोक प्रसारण होत हे। डीटीएच मं डीडीएमपी के शुरू होवईया ये प्रसारण एखर ले अकतिहा होही।

Post a Comment

0 Comments