कार्य योजना बनाके गांव वाले मन के समस्या मन के करव निराकरण: अजय चन्द्राकर

पंचायत मंत्री ह राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम मन के तहत पात्र हितग्राही मन ल शत प्रतिशत लाभाविन्त करे ल कहिन। उमन कहिन कि प्रदेश म ग्रामीण गरीब अऊ बेघरबार परिवार ल घर देवाए बर संचालित प्रधान मंत्री घर योजना के तहत सही हितग्राही मन ल प्राथमिकता के आधार म घर देवाए बर सहायता दे जानी चाही। अधिकारी मन ह बताइन कि पाछू साल घर विहीन परिवार बर दू लाख 32 हजार मकान बनाए के लक्ष्य रहिस। वित्तीय साल 2017-18 म छै लाख मकान बनाए के प्रावधान करे गए रहिस। ए दिशा म तेजी ले काम करे जात हे। बैठक म अधिकारी मन ह राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत होवत काम के जानकारी दे गीस। 
श्री चन्द्राकर ह कहिन कि ग्रामीण गरीब महिला मन ल परंपरागत व्यावसायिक गतिविधि मन ले जोड़के ओ मन ल आत्मनिर्भर बनाए बर बेहतर काम करना चाही। ऊंखर बर आन व्यापारी मन के जइसे बाजार देवाए के जरूरत हे। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (बिहान) के तहत अब तक प्रदेश के 85 सघन विकासखण्ड मन म पांच लाख 64 हजार ले जादा महिला मन ल स्व सहायता समूह के संग लाभान्वित करे जात हे। अधिकारी मन ह मनरेगा के उपलब्धि मन के सबंध म विस्तार ले जानकारी दीन। मनरेगा के तहत प्रदेश म 36 लाख 54 हजार कुटुंब पंजीकृत हे। एमां अनुसूचित जाति वर्ग के तीन लाख 85 हजार अउ अनुसूचित जनजाति वर्ग के 12 लाख 51 हजार कुटुंब सामिल हे।
बैठक म बताए गीस कि मांग के आधार म 21 लाख 32 हजार परिवार ल रोजगार मुहैया कराया गए हे। ए अकतहा विभागीय अभिसरण के संग ग्राम पंचायत भवन, आंगनबाड़ी भवन, मिनी स्टेडियम निर्माण,तालाब अऊ डबरी निर्माण संग मुख्यमंत्री ग्राम सड़क अउ विकास योजना के मिट्टी काम करे जात हे। मनरेगा के श्रमिक मन ल कोर बैंकिग के माध्यम ले मजदूरी के भुगतान करे जात हे, जेखर चलते मजदूरी भुगतान म सुविधा होवत हे। श्री चन्द्राकर ह समय सीमा म मजदूरी भुगतान के प्रक्रिया के प्रशंसा करिन। उमन मजदूर मन ल अऊ जादा सुविधा जनक ढंग ले मजदूरी के भुगतान करे बर आधुनिकतम तकनीकी सुविधा मन के उपयोग करे उपर जोर दीन। बैठक म सांसद अऊ विधायक मन ह अपन क्षेत्र मन के समस्या ले अवगत कराइन अउ उचित मार्गदर्शन अऊ सुझाव दीन।


Post a Comment

0 Comments