ग्रामीण क्षेत्र मन के विकास म नवाचार के उपयोग होना चाही: श्री अजय चन्द्राकर

पंचायत मंत्री मुख्य कार्यपालन अधिकारी मन के परवीक्षा अवधि के समापन म आयोजित कार्यक्रम म होइन सामिल
रायपुर, 24 जून 2017, पंचायत अउ ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चन्द्राकर ह कहिन कि अध्ययन-अध्यापन अच्छा काम हे, फेर एखर ले घलोक अच्‍छा हे एमां ले नवाचार ल खोजके आम नागरिक मन के भलाई बर उपयोग म लाना। उमन कहिन कि मैदानी अधिकारी-कर्मचारी ग्रामीण विकास के मुख्य धुरी हें। जेखर सेती प्रामाणिकता अऊ ईमानदारी के संग काम करत जीवन म आगू बढ़ना चाही। श्री चन्द्राकर ह आज इहां नवा रायपुर के ठाकुर प्यारे लाल पंचायत अउ ग्रामीण विकास प्रशिक्षण संस्थान निमोरा म राज्य लोक सेवा आयोग कोति ले चुने गए मुख्य कार्यपालन अधिकारी मन से सफलता ले दू साल के परवीक्षा अवधि पूरा करे उपर आयोजित एक कार्यक्रम म कहिन। श्री चन्द्राकर ह सफलता से परवीक्षा अवधि पूरा करे म मुख्य कार्यपालल अधिकारी मन ल ऊंखर बेहतर भविष्य बर बधाई अऊ शुभकामना दीन। ए अवसर उपर मुख्य कार्यपालन अधिकारी मन से महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, स्वच्छ भारत मिशन अऊ प्रधानमंत्री आवास (ग्रामीण) योजना मन उपर अपन दू साल के अनुभव मन ल जेमां योजना म का नवा कर सकत हें, का सुधार करे जा सकत हे, समस्या अऊ चुनौती का-का हे अऊ सफलता कइसे मिल सकत हे के संबंध म पॉवर पाइंट के माध्यम ले प्रस्तुतीकरण दीन। श्री चन्द्राकर ह कहिन कि ग्रामीण विकास बर अनुसूचित क्षेत्र मन म पेसा नियम मन के घलोक अनिवार्य रूप ले पालन होना चाही। छत्तीसगढ़ म पंचायत राज म ग्राम सभा के महत्व के बारे म गांव वाले मन ल जानकारी होना चाही। ए मौका म पंचायत अउ ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री एम.के. राउत, सचिव श्री पी.से. मिश्रा, संचालक (पंचायत) श्री एस.के. जायसवाल, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के प्रबंध संचालक श्रीमती ऋतु सेन, स्वच्छ भारत मिशन के मिशन संचालक श्री बिलास राव संदीपन, प्रधानमंत्री घर, ग्रामीण के अपर आयुक्त श्री शिव अनंत तायल संग आन विभागीय वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहिन।


Post a Comment

0 Comments