छत्तीसगढ़ म जीएसटी ल मिलीस बढि़या पंदोली: डॉ. रमन सिंह


  • मुख्यमंत्री ह केन्द्रीय वित्त मंत्री ले मिलके ओ मन ल राज्य म जीएसटी अमल के कार्ययोजना के जानकारी दीन
  • जीएसटी उपर रायपुर म 09 जुलाई के दिन सम्मेलन: श्री अरूण जेटली आहीं 


रायपुर, 03 जुलाई 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि एक जुलाई ले लागू गुडस अऊ सर्विसेस टेक्स (जीएसटी) उपर छत्तीसगढ़ के जनता अऊ व्यावसायिक संस्थान मन ह सकारात्मक रूख देखात एला लउहे अपनाए ल सुरू कर देहे हें। मुख्यमंत्री ह ये जानकारी आज केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरूण जेटली ल नई दिल्ली म वित्त मंत्रालय म होए मुलाकात के समय दीन। मुख्यमंत्री ह केन्द्रीय वित्त मंत्री ल 9 जुलाई के दिन रायपुर म जीएसटी उपर आयोजित वृहद सम्मेलन अऊ प्रशिक्षण सत्र बर आमंत्रित करिन। केन्द्रीय वित्त मंत्री ह ए सम्मेलन म आए बर सहर्ष स्वीकृति घलोक प्रदान करिन। 
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह केन्द्रीय वित्त मंत्री ल छत्तीसगढ़ म जीएसटी के प्रशिक्षण अऊ भावी योजना के बारे म विस्तार ले बताइन। उमन कहिन कि हम जुलाई महिना म विकासखंड स्तर तक 500 ले जादा कार्यशाला आयोजित करत हावन। जेमा ब्लॉक स्तर म मुनीम , अकाउण्टेंट अउ कॉमन सर्विस सेंटर के आपरेटर ल प्रशिक्षण देहे जाही। उमन बताइन कि ए प्रशिक्षण केन्द्र मन म स्थानीय स्तर म व्यावसायिक संघ, चार्टर्ड अकाउण्टेंट, कर सलाहकार ल घलोक सम्मिलित करे जाही। 
मुख्यमंत्री ह केन्द्रीय वित्त मंत्री ल बताइन कि राज्य म कुल पंजीकृत व्यवसायी मन के करीबन 92 प्रतिशत व्यवसायी मन ह जीएसटी म पंजीकरण करा लेहे हें। एमां ले जादा झन ल जीएसटी के प्रावधान मन के जानकारी घलोक देहे जा चुके हे। उमन बताइन कि प्रशिक्षण बर जीएसटी एक्ट अऊ नियम के सरल भाखा म जानकारी बर ब्रोशर, पम्पलेट, पीपीटी, एफएक्यू, टवीटर, फेसबुक अऊ आन माध्यम मन ले देहे जात हे। व्यवसासी मन के शंका के समाधान बर घलोक तंत्र विकसित करे जात हे।

Post a Comment

0 Comments