हर जिला म खनिज न्यास गठित करइया छत्तीसगढ़ पहली राज्य: डॉ. रमन सिंह


  • मुख्यमंत्री के अध्यक्षता म डीएमएफ के समीक्षा बैठक
  • कोरबा, रायगढ़ अऊ दंतेवाड़ा जिला मन बर विशेष कार्ययोजना बनाए के निर्देश
  • सबो जिला मन म सितमबर 2018 तक ढाई हजार करोड़ के विकास कार्य के लक्ष्य

रायपुर, 07 जुलाई 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के अध्यक्षता म आज इहां मंत्रालय (महानदी भवन) म जिला खनिज संस्थान न्यास (डीएमएफ) के बैठक आयोजित करे गए। डॉ. सिंह ह डीएमएफ के राशि ले राज्य के कई ठन जिला मन म होवत विकास काम मन के समीक्षा करिन। उमन ए बात म खुशी जताईन कि छत्तीसगढ़ के सबो 27 जिला मन म जिला खनिज संस्थान न्यास के गठन हो गए हे अऊ अइसन करइया छत्तीसगढ़ देश के पहली राज्य हे। मुख्यमंत्री ह कहिन कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व म केन्द्र सरकार कोति ले देश के सबो राज्य मन म खनिज उत्पादन के एक निश्चित राशि राज्य के संबंधित खनिज उत्पादक जिला मन के विकास बर देहे के प्रावधान करे गए हे। ए राशि ले जिला मन म स्थानीय महत्व के बहुत अकन जरूरी विकास कार्य हो सकत हे। छत्तीसगढ़ के कई जिला मन म ए दिशा म बेहतर काम होवत हे। केन्द्र सरकार कोति ले प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना देश म लागू करे गए हे। एखर अन्तर्गत छत्तीसगढ़ जिला खनिज न्यास नियम 2015 लागू करे गए हे। मुख्यमंत्री ह कहिन कि हर एक जिला म खनिज संस्थान न्यास के राशि ए योजना के नियम अऊ दिशा-निर्देश के जइसे खरचा करे जाय। सबो जिला मन म खनिज संस्थान न्यास जनवरी 2015 ले अस्तित्व म आ गए हे। बैठक म मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड, खनिज साधन विभाग के सचिव श्री सुबोध कुमार सिंह अऊ संचालक श्रीमती अलरमेल मंगई डी संग आन संबंधित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहिन। खनिज साधन विभाग के सचिव श्री सुबोध कुमार सिंह ह बैठक म जिला खनिज न्यास संस्थान के गतिविधि मन के प्रस्तुतिकरण दीन। 
मुख्यमंत्री ह खनिज न्यास मद म 50 करोड़ रूपिया ले जादा राजस्व प्राप्त होवइया जिला मन के विकास बर विशेष पंचवर्षीय कार्ययोजना बनाए के निर्देश दीन। एखर बर खनिज संसाधन के दृष्टि ले तीन बड़े जिला- रायगढ़, कोरबा अऊ दक्षिण बस्तर (दंतेवाड़ा) ल चिन्हित करे गीस अऊ उहां सड़क, बायपास मार्ग, फ्लाई ओव्हर अऊ घर अउ भवन आदि के निर्माण करके मजबूत अधोसंरचना विकसित करे बर निर्देश दीन। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह एखर निधि ले रायगढ़ शहर के चारों तरफ बायपास मार्ग के निर्माण, कोरबा म झुग्गी-झोपड़ी म रहइया मनखे मन बर घर निर्माण अऊ दंतेवाड़ा म सड़क अउ आन भवन निर्माण जइसे विकास कार्य ल प्राथमिकता ले सामिल करे के निर्देश दीन। राज्य म जिला खनिज न्यास निधि के अंतर्गत सितमबर 2018 तक दू हजार 500 करोड़ रूपिया के राशि ले खनिज धारित क्षेत्र मन म विकास के लक्ष्य हे।


बैठक म मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ह जिला खनिज न्यास निधि म जिला मन ल प्राप्त होवत राजस्व राशि के जइसे विकास कार्य ल लउहे ले स्वीकृत करे के निर्देश दीन। उमन ए निधि ले प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत हितग्राही मन ल जादा ले जादा लाभान्वित करे बर राशि प्रावधान करे के निर्देश दीन। बैठक म सचिव खनिज श्री सुबोध सिंह ह बताइस कि प्रधानमंत्री उज्जलवा योजना के तहत चालू वित्तीय साल 2017-18 म राज्य म 15 लाख महिला मन ल रसोई गैस कनेक्शन देहे के लक्ष्य रखे गए हे। एमां न्यास निधि ले 81 करोड़ रूपिया के राशि देहे के प्रावधान रखे गए हे। एखर लिए अब तक 62 करोड़ रूपिया के राशि देहे गए हे। 


प्रस्तुतिकरण म श्री सुबोध कुमार सिंह ह बताइस कि खनिज परिक्षेत्र के अंतर्गत अवइया गांव मन ल आदर्श ग्राम के रूप म विकसित करे जाथे। ए निधि के तहत अभी हाल म आठ जिला मन के 43 गांव मन ल आदर्श ग्राम बनाए बर 45 करोड़ 52 लाख रूपिया के राशि के काम संचालित करे जाथे। एमां कोरबा जिला म 12 ग्राम, बिलासपुर जिला म 10 ग्राम, रायगढ़ जिला म छह ग्राम, दक्षिण बस्तर (दंतेवाड़ा) जिला म पांच ग्राम, सूरजपुर, बालोद अउ जांजगीर-चांपा जिला म तीन-तीन ग्राम अउ कोरिया जिला म एक ग्राम सामिल हे। एमां ले हर एक ग्राम म अवइया दू-तीन साल म पांच करोड़ रूपिया के विकास काम करे जाही। ए कार्य म प्रमुख रूप ले आजीविका विकास, स्वास्थ्य, शिक्षा, पेयजल संग अधोसंरचना अऊ सामाजिक विकास काम ल लेहे गए हे।  

Post a Comment

0 Comments