मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड वितरन योजना : पहिली चरन म छत्तीसगढ़ पूरा देश म अव्वल

रायपुर, 04 जुलाई 2017। छत्तीसगढ़ म किसान मन ल उंखर खेती के जमीन मन के स्वास्थ्य कार्ड देहे के योजना म तेजी ले काम चलत हे। योजना के तहत पहिली चरण म पाछू दू साल म साल 2015-16 अऊ साल 2016-17 म किसान मन ल स्वास्थ्य कार्ड देवाए के मामला म छत्तीसगढ़ पूरा देश म पहिली स्थान म रहे हे।  
कृषि मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ह आज इहां बताइस कि पहिली चरण के अंतर्गत दु साल म किसान मन ल 38 लाख 90 हजार 709 स्वास्थ्य कार्ड देहे के लक्ष्य रखे गए रहिस। एखर जघा म 43 लाख 37 हजार 595 मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड किसान मन ल वितरित करे गए हे। ए अवधि म सात लाख 90 हजार मिट्टी नमूना के संग्रहण करके ए सबो नमूना मन के विश्लेषण करे गए हे। श्री अग्रवाल ह ये घलोक बताइस कि योजना के दूसर चरण म चालू वित्तीय साल म 23 लाख 46 हजार 890 मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड किसान मन ल देहे के लक्ष्य रखे गए हे। दूसरे चरण म अभी तक 74 हजार 211 मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड किसान मन ल देहे जा चुके हे। अभी हाल म दूसर चरण बर निरधारित लक्ष्य के मुताबिक किसान मन ल मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड देहे  के काम म तेजी ले कार्रवाई चलत हे। 33 स्थायी मिट्टी प्रयोगशाला अऊ 174 मिनी मिट्टी परयोग शाला म मिट्टी नमूना के जांच करे जात हे। 
कृषि मंत्री श्री अग्रवाल ह कहिन कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के साल 2022 तक किसान मन के आय दुगुना करे के अभियान के अंतर्गत मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड वितरण महत्वपूर्ण योजना हे। योजना के तहत सबो किसान मन ल उंखर खेती के जमीन मन के स्वास्थ्य कार्ड देहे जाही। श्री अग्रवाल ह कहिन कि स्वास्थ्य कार्ड म जमीन मन के गुणवत्ता अऊ वोमा लेहे वाले उपयुक्त फसल मन के बारे म विस्तार ले सुझाव दे जाही। खेती के जमीन मन के कमी मन अऊ ऊंखर सुधार बर जरूरी उपाय मन के बारे म घलोक मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड म उल्लेख रहिही। श्री अग्रवाल ह कहिन कि छत्तीसगढ़ सरकार किसान मन के हित म ए योजना म पूरा गंभीरता ले काम करत हे। 

Post a Comment

0 Comments