GST पेनधारी पंजीकृत व्यवसायी मन ल अनंतिम आधार म पंजीयन प्रमाण पत्र दे जाही

विक्रेता मन के पंजीकृत होए म जीएसटिन अंकित होना अनिवार्य 

रायपुर, 06 जुलाई 2017। देश भर म माल अउ सेवा कर अधिनियम 2017 पाछू एक जुलाई 2017 ले लागू कर दे गए हे। जीएसटी लागू होए के बाद प्रदेश म क्रय-विक्रय संव्यवहार बर टैक्स इन्वाईस/बिल ऑफ सप्लाई जारी करना हे। अइसन बेचइया या व्यवसायी मन के पंजीकृत होए के स्थिति म जीएसटी अंकित होना अनिवार्य करे गए हे। वाणिज्यिक कर विभाग के सहायक आयुक्त ह ये जानकारी देवत बताइन हे कि वैध पेनधारी पंजीकृत व्यवसायी मन ल अनंतिम आधार म पंजीयन प्रमाण पत्र दे जाही। ये अनंतिम प्रमाण पत्र स्थायी प्रमाण पत्र के रूप म जारी होही, जऊन कि निरस्त करे जाय तक प्रभावी रहिही। 
अइसन व्यापारी जउन ल अभी तक प्रोविजनल आई.डी. जारी नइ होय हे, ओ मन ल अनंतिम आधार म टैक्स इन्वाईस/बिल ऑफ सप्लाई मूल्य संवर्धित कर अधिनियम 2005 के अंतर्गत जारी टिन नम्बर के संग ‘प्रोविजनल आई.डी. अप्राप्त’ के सील लगाके पंजीयन प्रमाण पत्र जारी करे जाही। कोनो व्यवसायी ल जउन ल जीएसटिन मिल जात हे, ओ मन ल जीएसटिन के उल्लेख करत रिवाईज्ड इन्वाईस जारी करना अनिवार्य होही। सहायक आयुक्त ह ए बात के घलोक उल्लेख करिन हे कि व्यवसायी ल जारी प्रोविजनल आई.डी. च ह ओखर जीएसटिन हे। कहूं व्यवसायी के एके पेन म एक ले जादा पंजीयन हे तो ओ मन अइसन बिजनेस वर्टिकल्स ल नवा रजिस्ट्रेशन के माध्यम ले रजिस्टर कर सकत हें। ए संबंध म पूरा जानकारी बर वाणिज्यिक कर विभाग के आयुक्त कार्यालय ले सम्पर्क कर सकत हें।
आप मन जानतेच हव कि भारत सरकार के राजस्व, केन्द्रीय उत्पाद अउ सीमा शुल्क विभाग के संयुक्त तत्वाधान म छै दिन के जीएसटी मास्टर क्लास (प्रशिक्षण) के आयोजन करे जात हे। आज ले आठ जुलाई तक संझा साढे़ चार बजे ले साढे पांच बजे तक पंजीयन अउ नामांकन, संक्रमणकालीन उपबंध अउ बीजक अऊ कम्पोजीशन अउ रिकॉर्ड कीपिंग विसय म हिन्दी म प्रशिक्षिण दे जाही। जीएसटी के ये मास्टर क्लास राजस्व सचिव डॉ. हसमुख अढ़िया के मार्गदर्शन म खांटी जानकार के टीम कोति ले देहे जात हे। इही विषय मन म अवइया 10, 11 अउ 12 जुलाई को ओ निरधारित समय मन म ही अंगरेजी म इही जानकारी देहे जाही। सबो सत्र मन के सीधा प्रसारण दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल अउ आन चैनल मन म करे जाही। संगेच एकर पी.आई.डी. वेबसाईट म लाईव करे जाही।

Post a Comment

0 Comments