राज्य म बिना स्पीड गवर्नर वाले वाहन मन के फिटनेश प्रमाण पत्र निरस्त होही

रायपुर, 12 फरवरी 2018। सर्वोच्च न्यायालय के अधीन गठित सड़क सुरक्षा समिति के दिशा-निर्देश मन के प्रभावी क्रियान्वयन बर अन्तर्विभागीय लीड ऐजेंसी (छत्तीसगढ़) के बैठक आज अकतहा पुलिस महानिदेशक (रेल- यातायात) श्री टी.जे. लांगकुमेर के अध्यक्षता म पुलिस मुख्यालय नया रायपुर म आयोजित करे गीस। बैठक म राज्य म सड़क दुर्घटना मन म कमी लाय अऊ दुर्घटना मन म घायल मनखे ल तुरंते चिकित्सा सुविधा देवाए बर होवइया उदीम के विभागवार विवरण प्रस्तुत करे गीस।
लोक निर्माण विभाग (राष्ट्रीय राजमार्ग) अउ राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारी मन कोति ले प्रदेश म नेशनल हाईवे अउ स्टेट हाइवे म चिन्हित ब्लेक स्पॉट (दुर्घटना जन्य स्थान मन) म करे गये सुधारात्मक उपाय मन के प्रस्तुतिकरण देहे गीस। अकतहा पुलिस महानिदेशक श्री लांगकुमेर ह लोक निर्माण विभाग के अधिकारी मन ल निर्देशित करिस कि पूर्व म विभाग कोति ले निरधारित समय-सीमा 31 मार्च 2018 तक ब्लेक स्पॉट म सुधारात्मक कार्य हर हाल म पूरा कर ले जाय।

style="display:block; text-align:center;"
data-ad-format="fluid"
data-ad-layout="in-article"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="9030430959">


बैठक म लोक र्मिाण विभाग के अधिकारी मन ह बताइन कि राज्य भर म नवा ब्लेक स्पॉट कुल 29 चिन्हित करे गये हे, एमां 16 के कार्य पूरा कर ले गए हे अउ बांचे 13 ब्लेक स्पॉट के काम 31 मार्च 2018 तक पूरा हो जाही। बैठक म परिवहन विभाग के उपायुक्त श्रीमती श्वेता सिन्हा ह बताइस कि पाछू दिनन म राज्य भर म 22 हजार व्यावसायिक वाहन मन के जांच करे गीस। ये मां 1820 वाहन मन म स्पीड गवर्नर नइ पाये म फिटनेश प्रमाण-पत्र जारी नइ करे गीस।

वाहन मन के गति नियंत्रण विसय म अकतहा पुलिस महानिदेशक ह कहिन कि केवल फिटनेश जांच के समय स्पीड गवर्नर के जांच काफी नइ हे। वाहन मन के सड़क मन म परिचालन के समय घलोक स्पीड गवर्नर काम करना चाही एखर जांच पुलिस अऊ परिवहन विभाग के अधिकारी सख्ती ले करयं अऊ जऊन वाहन मन के स्पीड गर्वनर बंद मिलय ओखर फिटनेश प्रमाण पत्र निरस्त करे जाए। विशेषकर स्कूली बस मन के चेकिंग अभियान चलाकर करे जाए।
श्री लांगकुमेर ह नगरीय प्रशासन विभाग के अधिकारी मन ल निर्देशित करिस कि शहरी क्षेत्र मन म अइसन होर्डिंग्स जऊन वाहन चालक मन के ध्यान भंग करथे हो ओ मन ल तुरंते हटाय जाय अउ शहरी क्षेत्र मन म सड़क मन के तीर अवैध रूप ले खड़े वाहन मन अऊ ठेला म दुकान चलाइया मन ल घलोक हटाय जाय अउ ए अतिक्रमण हटाए बर करे गए कार्यवाही के छायाचित्र अऊ वीडियो क्लीपिंग पुलिस मुख्यालय ल भेजे जाय, जऊन ल दिल्ली म आयोजित त्रेमासिक बैठक म प्रस्तुत करे जाही। बैठक म स्वास्थ्य विभाग के तरफ ले डॉ. राजेश शर्मा ह सड़क दुर्घटना म घायल मन के इलाज बर अस्पताल मन म करे गए व्यवस्था मन के जानकारी दीन। सहायक पुलिस महानिरीक्षक श्री जितेन्द्र सिंह मीणा ह प्रदेश म सड़क दुर्घटना रोके बर सर्वोच्च न्यायालय कोति ले निर्देशित बिन्दु के विवरण प्रस्तुत करिन। ए बैठक म आबकारी विभाग के अधिकारी घलोक उपस्थित रहिन।

style="display:block; text-align:center;"
data-ad-format="fluid"
data-ad-layout="in-article"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="9030430959">

Post a Comment

0 Comments