ए हप्‍ता के छत्‍तीसगढ़ी ..

#संगी के बिहाव #लमसेना प्रथा चालू करव #नानकिन किस्‍सा : अमर #मरनी भात #मुद्दा के ताबीज फोटूल अंगरी म चटकार के पढ़व ..
#कहानी : लालू अऊ कालू #मोरो बिहा कर दे #नानकिन किस्सा : प्याऊ #आमा खाव मजा पाव #आमा के चटनी #छत्तीसगढ़ी भाषा का मानकीकरण : कुछ विचार ..फोटूल अंगरी म चटकार के पढ़व ..
http://www.gurturgoth.com/kahani-lalu-au-kalu/

http://www.gurturgoth.com/moro-bihav-kara-de/

http://www.gurturgoth.com/laghu-katha-pyau/

http://www.gurturgoth.com/aama-khav-maja-pav/



http://www.gurturgoth.com/aama-ke-chatani/

http://www.gurturgoth.com/chhattisgarhi-bhasha-ka-mankikaran/

Post a Comment

0 Comments