अल्पकालीन कृषि ऋण माफी योजना : ऋण माफी से शांति लाल के चेहरे पर है शांति

खुर्रा बोनी कर अगले खरीफ फसल की तैयारी प्रारंभ

रायपुर, जांजगीर चांपा जिले के नवागढ़ विकासखण्ड के ग्राम माहौर के किसान श्री शांति लाल के चेहरे पर शांति है। राज्य सरकार की अल्पकालीन ऋण माफी योजना से अब उसे ऋण वापस करने की चिंता नहीं है। अगले फसल के लिए खुर्रा बोनी की तैयारी प्रारंभ कर दी  है। श्री शांति लाल ने बताया कि वह खेती किसानी के लिए विगत वर्ष 70 हजार रूपये का कर्ज लिया था। छोटे किसान के लिए इतना बड़ा कर्ज एक साल में जमा करना संभव नहीं था। कर्ज वापसी की चिंता एवं परिवार की जिम्मेदारी के कारण जीवन कठिन लग रहा था। राज्य सरकार की अल्पकालीन ऋण माफी योजना ने उसकी सभी कठिनाइयों का समाधान कर दिया है।

श्री शांतिलाल ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा अल्पकालीन ऋण योजना के तहत कर्ज माफ हो गया है। कर्ज माफ होने से वह इस वर्ष घर की मरम्मत करवा लिया है। घर की अन्य जरूरतो में वह निश्चित होकर खर्च कर रहा है। वह अगले खरीफ फसल की तैयारी में लग गए है। उन्होंने कहा कि कर्ज माफ होने से उसे खाद बीज मिल गया। कर्ज माफ नहीं होता तो इस वर्ष उसे बैंक से खाद बीज नहीं मिल पाता। समर्थन मूल्य पर धान बेचने पर कर्ज की राशि काटने से उसे नगद राशि भी नहीं मिल पाती। अल्पकालीन ऋण माफी योजना को किसानों के हित में बताते हुए राज्य सरकार के प्रति आभार व्यक्त किया है।

Post a Comment

0 Comments