भावी पीढ़ी को स्वच्छ और स्वस्थ वातावरण सौंपना हम सबकी जिम्मेदारी: श्री मोहम्मद अकबर

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

रायपुर, आवास एवं पर्यावरण मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने कहा है कि हमारे पूर्वजों ने विरासत में स्वस्थ और स्वच्छ वातावरण सौंपा है। हम सबका दायित्व है कि उसे और बेहतर करते हुए में भावी पीढियो को सौंपे। श्री अकबर आज विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर स्थानीय नवीन विश्राम गृह में आयोजित संगोष्ठी के समापन सत्र को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर पर्यावरण संरक्षण विषय पर स्कूल बच्चों के लिए आयोजित पोस्टर प्रतियोगता और क्विज प्रतियोगता के विजेताओं को पुरस्कृत किया। संगोष्ठी की शुरूआत में श्रम निकेतन हायर सेकेंडरी स्कूल एसीसी सीमेंट जामुल के स्कूली बच्चों ने नुक्कड़ नाटक किस्सा लकड़ी का मंचन किया। स्पंज आयरन एशोसिएसन और सार्थक इस्पात द्वारा इन बच्चों को 21-21 हजार रूपए का पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।
संगोष्ठी में श्री अकबर ने कहा कि पर्यावरण को बचाना, पृृथ्वी को बचाना। इसके लिए हमें जमीनी स्तर पर ठोस कार्य करना होगा। केवल वृृ़़क्षारोपण करने की बात ही न हो, बल्कि वृ़क्ष लगाने के साथ ही उसे संरक्षित करने का भी कार्य होना चाहिए। प्रदूषण से मुकाबला करने के लिए सामूहिक रूप से और समन्वित प्रयास जरूरी। उन्होंने कहा कि इसे यह आयोजन हमें इस बात का स्मरण कराता है कि स्वच्छ और संतुलित पर्यावरण जीवन के लिए कितना आवश्यक है और ऐसा न होने की स्थिति में हमारे जीवन पर कितना असर पड़ता है। धरती पर शुद्ध वायु ही जीवन का प्रमुख आधार है। उन्होंने कहा कि वायु प्रदूषण की मात्रा बढना चिंता का विषय है। इसका प्रमुख कारण है कि हम सिर्फ उत्पादन पर ध्यान देते रहें, पर वायुमंडल पर पड़ने वाले प्रभाव की अनदेखी करते रहे हैं।
संगोष्ठी में विधायक एवं पूर्व मंत्री श्री सत्यनारायण शर्मा, विधायक श्री विकास उपाध्याय और श्री कुलदीप जुनेजा ने पर्यावरण के महत्व पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम में भारतीय प्रबंध संस्थान के निदेशक श्री भारत भास्कर और वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ एस.के. गोयल ने भी अपने विचार व्यक्त किए। छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल के सदस्य सचिव श्री आर.पी. तिवारी ने स्वागत भाषण देते हुए मंडल की गतिविधियों पर प्रकाश डाला।

Post a Comment

0 Comments