मुख्यमंत्री द्वारा सूरजपुर जिले के केशवनगर आदर्श गौठान का अवलोकन

मुख्यमंत्री ने लगाई चैपाल: नरवा, गरुवा, घुरवा और 
बाड़ी योजना के महत्व को समझाया

रायपुर, 04 जून 2019/मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज सरगुजा संभाग के सुदूरवर्ती सूरजपुर जिले के ग्राम पंचायत केशवनगर पहुंचकर यहां बनाये गए ‘हमर गांव-हमर गौठान‘ का अवलोकन किया। उन्होंने गौठान में बनाये गए पैरा कट्टी शेड, वेटनरी हेल्प डेस्क, चारागाह, बाड़ी सहित विभिन्न घटकों का अवलोकन किया। इसी तरह स्व-सहायता समूहों के द्वारा तैयार किये गये उत्पादों का भी अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने यहां पशुओं को पहचान पट्टा पहनाया और चारा खिलाया।
उल्लेखनीय है कि यह गौठान लगभग 8 एकड़ क्षेत्र में बनाया गया है। यहां पर 640 पशु रखे गये है। गौठान के बगल से बहने वाली रेण नदी में उपलब्ध पानी से यहां सौर सामुदायिक सिंचाई परियोजना संचालित है। 73 एकड़ में यहां 5 एचपी क्षमता वाले कुल 60 पम्प लगाये गये है। इससे लगभग 144 किसान लाभान्वित होंगे।
मुख्यमंत्री ने यहाॅ चैपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं से रूबरू होते हुए। मुख्यमंत्री ने नरवा, गरुवा, घुरवा और बाड़ी योजना के संबंध में गांव वालो से उनका सुझाव लेते हुए इसके महत्व और उद्ेश्य से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि यह योजना ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए मील का पत्थर साबित होगी। गौठान से पशुओं को एक स्थान पर रखा जा सकेगा। एक से अधिक फसल लेने में सुविधा होगी। कृषि लागत में कमी आयेगी एक ओर जहाॅ पशुओं के देखरेख एवं खानपान का उचित अवसर मिलेगा, वहीं गायों के गोबर से कम्पोस्ट खाद एवं गोबर का उत्पादन होगा। केशवनगर गौठान को विकसित करने के लिये 20 लाख रुपये की स्वीकृत की गई है। कम्पोस्ट खाद बनाने में रोजगार के अवसर पैदा होगें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गौठान सरकार नहीं चलाएगी बल्कि उसे किसानों की समिति चलाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य शासन द्वारा विभिन्न तरीकों जैसे ऋण माफी, 2500 हजार रुपये प्रति क्विटंल में धान खरीदी आदि के द्वारा मदद की जा रही है। मुख्यमंत्री ने यहां वन अधिकार मान्यता पत्र के तहत् प्रतीकात्मक स्वरुप वनवासियों को वन अधिकार पत्र प्रदान किया। यहां पर कुल 1057 हितग्राहियों को वनाधिकार पट्टे का वितरण किया गया। 
स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने कहा कि नरवा, गरुवा, घुरुवा और बाड़ी योजना के तहत गांव-गांव में गौठान का निर्माण किया जा रहा है। गौठान से पशु संवर्धन और सुरक्षा का कार्य होगा, खेती-किसानी को बढ़ावा मिलेगा, स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा और उनकी आय में वृद्धि होगीं। 
इस अवसर पर स्कूल शिक्षामंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री खेलसाय सिंह, विधायक श्री गुलाब कमरो, मुख्य सचिव श्री सुनील कुजूर और पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री आर.पी. मण्डल, आई.जी. सरगुजा श्री के.सी. अग्रवाल, कलेक्टर श्री दीपक सोनी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अश्वनी देवांगन सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments