उमर अब्दुल्ला ने गवर्नर से पूछा साहब बताइए हो क्या रहा है?

कल के हाई अलर्ट के बाद  भी जम्मू कश्मीर में शांति है। जनजीवन सामान्य है और दुकानें खुली हुई है, स्कूल  भी चल रहे हैं।  इधर राज्य के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला अशांत हैं और उन्होंने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात की है।  उनका कहना है कि जम्मू-कश्मीर से पर्यटकों को अचानक वापस  चले जाने का संदेश प्रसारित करने की जरूरत क्यों पड़ गई है? उनका कहना है कि राज्य में तनाव का माहौल पैदा हो गया है? केंद्र सरकार को संसद में इसका जवाब देना चाहिए।

हवाई टिकट के दाम आसमान में,  टिकट  पांच गुना महंगा
कश्मीर  से बाहर के निवासियों को तत्काल कश्मीर छोड़ने की सरकारी सलाह के बाद जम्मू कश्मीर में टूर‍िस्टों में हड़बड़ी मची हुई है। सब जल्दी से जल्दी कश्मीर से निकलना चाह रहे हैं, ज‍िसका फायदा व‍िमान कंपन‍ियां उठा रही हैं। श्रीनगर से द‍िल्ली जाने वाली सभी फ्लाइट्स की टिकटों के दाम तेजी से बढ़ गए हैं।

धारा 35-ए में कोई बदलाव नहीं होगा- उमर अब्दुल्ला
उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में अचानक तनाव पैदा हो गया है। जिसके बाद भी राज्यपाल ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि जम्मू-कश्मीर में कुछ नहीं हो रहा है और जो बातें हो रही हैं वे अफवाह हैं। उमर अब्दुल्ला ने यह भी कहा है कि राज्यपाल ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि धारा 35-a के साथ किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जाएगी।

सरकार संसद में स्थिति स्पष्ट करे - उमर अब्दुल्ला
उमर अब्दुल्ला ने आज कहा है कि सरकार सोमवार को संसद की कार्यवाही शुरू होते ही सबसे पहले सदन में बयान देना चाहिए कि आखिर यात्रा को बंद करके श्रद्धालुओं को कश्मीर से निकालने को क्यों कहा गया। अब्दुल्ला ने यह भी कहा कि हम संसद में यह सुनना चाहते हैं कि वर्तमान माहौल में कश्मीर की जनता को डरने की कोई जरूरत नहीं है।

Post a Comment

0 Comments