आजादी की लड़ाई में अधिवक्ताओं का महात्वपूर्ण योगदान-सीएम बघेल (पहट की रिपोर्टिंग)

जिला अधिवक्ता संघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने ली शपथ, सीएम के अलावा गृहमंत्री, विधायक व न्यायाधीशगण हुए शामिल
दुर्ग, जिला अधिवक्ता संघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों एवं कार्यकारिणी सदस्यों ने बुधवार को मानस भवन में आयोजित गरिमामय समारोह में पद व गोपनीयता की शपथ ग्रहण की। उन्हे जिला एवं सत्र न्यायाधीश गोविंद कुमार मिश्रा द्वारा शपथ दिलवाई गई । समारोह में मुख्यमंत्री भूषेश बघेल मुख्य अतिथि के रुप में शामिल हुए।
जिला अधिवक्ता संघ द्वारा आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में श्री बघेल ने अधिवक्ताओं से खचाखच भरे सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आजादी की लड़ाई में अधिवक्ताओं महत्वपूर्ण योगदान था। हमारे महापुरुष महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरु, सरदार वल्लभभाई पटेल, डॉ. भीमराव अंबेडकर अधिवक्ता थे। अगर इन महापुरुषों ने निर्णायक लडाई नहीं लडी होती तो हमें आजादी नहीं मिली होती। लोकतंत्र के तीन स्तंभ न्यायपालिका, विधायिका व कार्यपालिक है। जिसमें न्यायपालिका का अपना अहम रोल है। किसी वर्ग या इतिहास के साथ अन्याय न हो, इसकी जिम्मेदारी न्यायपालिका की है। लोकतंत्र को मजबूत बनाने में न्यायपालिका प्रमुख कड़ी होती है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नई पीढ़ी से आह्वान करते हुए कहा कि संविधान का पालन करना सबकी जिम्मेदारी है। लेकिन कुछ जानकार लोग जानबूझकर इसका उल्लंघन कर रहे है। इतिहास ऐसे लोगों को कभी माफ नही करेगा। ऐसे लोगों के खिलाफ न्यायधीश व अधिवक्ताओं को आगे आने की आवश्यकता है।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने जिला अधिवक्ता संघ के भवन की मांग का जिक्र करते हुए कहा कि कलेक्टरेट व न्यायालय में समय के साथ अब बैठने की व्यवस्था नही है। इस समस्या से जल्दी निजात पाने की आवश्यकता है। इसके लिए उन्होने गौरवपथ स्थित पोल्ट्री फार्म व जनपद पंचायत कार्यालय के पीछे रिक्त भूमि पर कम्पाउंड निर्माण कर जगह को व्यवस्थित करने कलेक्टर को निर्देश देने की बात कही। न्यायालय परिसर की बिजली बिल छूट करने की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व में अगर छूट मिलती थी तो आगे भी यही व्यवस्था बनाने का प्रयास किया जाएगा। साथ ही मुख्यमंत्री ने जिला अधिवक्ता संघ को शासन से हरसंभव मदद का भरोसा भी दिलाया है। समारोह के विशिष्ठ अतिथि गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि पदाधिकारियों को बड़ी जिम्मेदारी मिली है। जिसका वे ईमानदारी के साथ निर्वहन करें। आम जनता को त्वरित व सरल न्याय कैसे मिले। हमेशा इस पर ध्यान केन्द्रित करें। तभी पद की जिम्मेदारी सार्थकता सिद्ध होगी। श्री साहू ने कहा कि गृह विभाग न्यायपालिका से जुड़ा हुआ है। विभाग के कार्य में सुधार किया जा रहा है। विभाग और बेहत्तर कार्य कर सके इसके लिए आपके सुझाव भी अहम होंगे। श्री साहू ने अपने उद्बोधन में मानस भवन को जिला मानस संघ के सुपुर्द करने का मुख्यमंत्री से निवेदन किया।
श्री साहू का कहना था कि मानस भवन में रामायण एवं अन्य धार्मिक कार्यक्रम होने से इसका रखरखाव ठीक होगा। विशिष्ठ अतिथि विधायक अरुण वोरा ने नवनिर्वाचित पदाधिकारियों से बेहत्तर कार्य कर संघ का नाम प्रदेश में ही नहीं देश में रोशन करने की बात कही । श्री वोरा ने अधिवक्ताओं की मांग पर भवन संधारण के लिए 25 लाख की राशि देने की घोषणा की। समारोह की अध्यक्षता कर रहे जिला एवं सत्र न्यायाधीश गोविंद कुमार मिश्रा ने निर्वाचित पदाधिकारियों से जनता को सरल व सुलभ न्याय दिलाने की दिशा में बेहत्तर कार्य करने की अपेक्षा जताई।
समारोह में जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष गुलाब सिंह पटेल व सचिव रविशंकर सिंह ने अपने उद्बोधन में अधिवक्ताओं की समस्याओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया और उन्हे मांगपत्र भी सौंपा। मांगपत्र में अधिवक्ताओं के लिए नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधा, आवासीय परिसर, अधिवक्ताओं के निधन पर राज्य शासन द्वारा 10 लाख की राशि प्रदान करने एवं अन्य मांगें शामिल है। मांगों को पूरा करने मुख्यमंत्री द्वारा अधिवक्ता संघ को आश्वस्त किया गया है।
इसके पहले जिला अधिवक्ता संघ के नवनिर्वाचित अध्यक्ष गुलाब सिंह पटेल, सचिव रविशंकर सिंह, उपाध्यक्ष प्रकाश धन्डोरे, पूजा मोंगरी, सहसचिव किशोर कुमार यादव, कोषाध्यक्ष संतोष देवांगन, ग्रंथालय सचिव आशीष सूर्यवंशी, क्रीडा एवं सांस्कृतिक सचिव रविशंकर मानिकपुरी, कार्यकारिणी सदस्य आलोक सारस्वत, अजय कुमार शर्मा, अमर जैन, विजय सोनकर, बजरंग श्रीवास्तव, कुमारी किरण गुप्ता को जिला एवं सत्र न्यायाधीश गोविंद कुमार मिश्रा द्वारा पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलवाई गई । समारोह का संचालन अधिवक्ता शकील अहमद सिद्धिकी, हरेन्द्र उमरे एवं आभार प्रदर्शन नवनिर्वाचित उपाध्यक्ष पूजा मोंगरी ने किया। इस अवसर पर
पूर्व विधायक भजन सिंह निरंकारी, जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष तुलसी साहू, शहर कांग्रेस अध्यक्ष आर.एन.वर्मा, बालोद जिला पंचायत अध्यक्ष देवलाल ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस कमेटी पदाधिकारी दीपक दुबे, राजेन्द्र साहू, कौशल किशोर सिंह, अलताफ अहमद, प्रकाश गीते, नीलू ठाकुर, रत्ना नारमदेव, अबरार पुवार, निलेश चौबे, मनीष बंछोर, प्रहलाद तिवारी, राजीव पांडेय, शिवशंकर सिंह, रमेश शर्मा, ऋषिकांत तिवारी, अनिल जायसवाल, अरसद खान, ओम प्रकाश जोशी, बृजेन्द्र कुमार गुप्ता, मुरली मनोहर देवांगन, कृष्णराज चंदेल, कमल वर्मा, सोहन महलवार, पंडित अजय मिश्रा, शिवाकांत तिवारी, न्यायाधीशगण, संभागीय आयुक्त दिलीप वासनीकर, कलेक्टर अंकित आनंद, एसपी प्रखर पांडेय के अलावा बड़ी संख्या में अधिवक्ता शामिल हुए।

Post a Comment

0 Comments