राजस्थान में दिसम्बर माह से बदल जाएगी राशन सामग्री वितरण की ये व्यवस्था, लाभार्थियों के लिए ऐसा करना होगा अनिवार्य

जयपुर। राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार राज्य में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत वितरित की जाने वाली राशन सामग्री के वितरण में दिसम्बर, 2019 से बदलाव करने जा रही है।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चन्द मीना ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में दिसम्बर माह से गत माह की राशन सामग्री प्रचलित माह के साथ वितरण कराने की लागू व्यवस्था समाप्त कर दी जाएगी।

इस योजना में बदलाव के लिए गहलोत ने मोदी को लिख दिया पत्र, पीएम ने मान लिया आग्रह तो किसानों को मिलेगा बड़ा फायदा

राजस्थान सरकार की इस व्यवस्था के लागू होने के बाद लाभार्थी को जिस माह के लिए गेहूं का आवंटन किया जाता है उसे उसी माह में अनिवार्य रूप से उचित मूल्य की दुकान से प्राप्त करना होगा।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चन्द मीना ने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थियों को उचित मूल्य की दुकान से गेहूं दिसम्बर से प्रतिमाह लेना जरूरी होगा। अगर कोई लाभार्थी दिसम्बर माह में राशन सामग्री नहीं लेता है तो उसे जनवरी माह में दिसम्बर माह की बकाया रसद सामग्री का वितरण नहीं किया जाएगा।

वायरल हुआ सामूहिक दुष्कर्म का वीडियो, महिला ने पति और जेठ सहित पांच लोगों के खिलाफ करवाया मामला दर्ज

गौरतलब है कि राजस्थान में उचित मूल्य की दुकान से अभी तक जो लाभार्थी राशन सामग्री प्रत्येक माह प्राप्त नहीं कर रहा था उसे एक साथ दो माह की राशन सामग्री लेने की छूट है।



Post a Comment

0 Comments