बुलंदशहर: बेकाबू बस ने सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को रौंदा, सात की मौत

बुलंदशहर। नरोरा में गंगा के निकट गांधी घाट पर सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को एक अनियंत्रित बस ने कुचल दिया।इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक मरने वालों में चार महिलाएं और तीन बच्चे  हैं । श्रद्धालु वैष्णो देवी की यात्रा कर हाथरस लौट रहे थे।

वैष्णो देवी की यात्रा पर गए थे 56 लोग

हाथरस जिले के के थाना चंदपा के गांव मोहनपुरा से 3 अक्टूबर को एक बस में सवार होकर 56 यात्री वैष्णो देवी की यात्रा करने गए थे। इनमें मोहनपुरा के निवासियों के कुछ रिश्तेदार भी थे। गुरुवार की रात करीब तीन बजे हरिद्वार से चलकर तीर्थयात्रियों की बस नरोरा में गांधी घाट पर पहुंची। रात अधिक होने के कारण बस वहीं सड़क किनारे खड़ी कर दी। बस से कुछ यात्री उतर कर खड़ंजे पर ही सो गए।

सुबह चार बजे हुआ हादसा

गहरी नींद में सो रहे लोगों को पता ही नहीं चला की मौत उनके इतने करीब आ गई है। शुक्रवार तड़के करीब चार बजे एक अनियंत्रित बस ने खड़ंजे पर सो रहे लोगों को कुचल दिया। सात लोगों कीमौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। तहरीर मिलने का रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। पूरे मामले की गहराई से जांच होगी।http://www.kanvkanv.com

The post बुलंदशहर: बेकाबू बस ने सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को रौंदा, सात की मौत appeared first on Kanv Kanv.



Post a Comment

0 Comments