मुख्यमंत्री ने की जामगांव-रूही सड़क निर्माण की घोषणा : मड़ई मेले में शामिल होने पहुंचे मुख्यमंत्री ने कहा कलामंच के लिए दी जाएगी पर्याप्त राशि

मड़ई मेले में पाटन ब्लॉक के ग्राम रूही में भाग लेने पहुंचे मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से ग्रामीणों ने जामगांव से रूही तक सड़क निर्माण की मांग रखी। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में इस साल के बजट में इस सड़क का प्रस्ताव जोड़ने की घोषणा की। साथ ही उन्होंने कहा कि यहां सुंदर और उपयोगी कलामंच तैयार करने के लिए पर्याप्त राशि दी जाएगी। 

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज दुर्ग जिले के पाटन विकासखंड के ग्राम रूही में आयोजित मड़ई मेले में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि मड़ई में उत्सव का माहौल होता है। अपनों से मिलने जुलने का अवसर होता है। उन्होंने कहा कि इस साल गोवर्धन पूजा को गौठान दिवस के रूप में मनाया गया। यह गोवंश के संवर्धन का पर्व है। उन्होंने कहा कि मुझे सबसे ज्यादा खुशी इस बात की है कि पहली बार कोई मुख्यमंत्री ग्रामीणों के बीच उनके उत्सवों में शामिल हो रहा है। गेड़ी चढ़ रहा है। लोक मान्यताओं के अनुरूप गौरा-गौरी के पर्व में हिस्सा लेकर शुभ की कामना करता है और ग्रामीण बड़े प्रेम से शुभ की कामना के साथ कुश के सोंटे से हाथ में प्रहार करते हैं। यह सब बहुत अच्छा लगता है। हम अपनी समृद्ध छत्तीसगढ़ी अस्मिता को साथ लेकर चल रहे हैं। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार हमने नारा दिया कि एक दीया छत्तीसगढ़ महतारी के नाम। इस बार हमारे कुम्हारों का मिट्टी का दीया खूब बिका। इस छत्तीसगढ़ी भाव को आगे बढ़ाना है। ये गौठान आपके लिए है। इसे हम सबको मिलकर आगे बढ़ाना है। हमारी स्व-सहायता समूह की महिलाओं को कम्पोस्ट खाद बनाना सिखाना है। अपने पैरों पर खड़ा करना है। यह सपना आप सभी के सहयोग से मूर्त रूप लेगा। हमने यह लक्ष्य लिया कि सभी गरीबों को राशन कार्ड मिले। साथ ही सभी वर्गों को राशन कार्ड मिले। साथ ही आम जनता को बिजली बिल के भारी बोझ से राहत दी। बिजली बिल आधा होने से लोगों को बड़ी राहत मिली है।

Post a Comment

0 Comments