कांग्रेस से पूछा शिवसेना ने दिया साथ आने का प्रस्ताव तो क्या करेंगे, मिला ये जवाब

महाराष्ट्र में सरकार बनाने का पेंच फंसता जा रहा है। इसकी वजह है भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना जिनके बीच समझौता नहीं हो रहा है। दोनों ही दल सीएम पद को लेकर अड़े हुए हैं। शिवसेना 50-50 फॉर्मूले के तहत समझौता चाह रही है जबकि भाजपा इसके लिए राजी नहीं है। वहीं दोनों के झगड़े में कांग्रेस को मौका दिखने लगा है। इसी बीच कांग्रेस पार्टी से जब पूछा कि अगर शिवसेना प्रस्ताव देती है तो कांग्रेस क्या करेगी। इस सवाल पर कांग्रेस की तरह से यह जवाब मिला।

50-50 के फॉर्मूले पर मचा है घमासान

भाजपा और शिवसेना के बीच घमासान की असली वजह 50-50 का फॉर्मूला है। भाजपा चाहती है कि शिवसेना का डिप्टी सीएम राज्य में हो जबकि शिवसेना का कहना है कि सीएम का पद ढाई-ढाई साल के लिए बांट लिया जाए। इतना ही नहीं इसके लिए शिवसेना ने लिखित समझौता करने की मांग भी कर दी है। हालांकि भाजपा किसी भी तरह से इसके लिए तैयार नहीं है। दोनों के झगड़े के बीच कांग्रेस के लिए सरकार बनाने की नई राह बनती नजर आ रही है।

जानें शिवसेना के प्रस्ताव के सवाल पर कांग्रेस का जवाब

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की खींचतान के बीच कांग्रेस पार्टी के नेता पृथ्वीराज चव्हाण से पूछा कि अगर शिवसेना कांग्रेस को महाराष्ट्र में साथ देने का प्रस्ताव देती है तो कांग्रेस क्या करेगी। इस पर चव्हाण ने कहा कि अभी शिवसेना की ओर से कोई प्रस्ताव नहीं आया है। हालांकि उन्होंने कहा कि अगर शिवसेना प्रस्ताव देती है सहयोगी दलों और कांग्रेस हाईकमान से इस बारे में चर्चा की जाएगी। कांग्रेस ने सरकार बनाने के लिए अपने विकल्प खुले रखे हैं।

दोस्तो आपको क्या लगता है शिवसेना को कांग्रेस के साथ जाना चाहिए, कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें। हर अपडेट के लिए आप मुझे फॉलो जरूर करें। धन्यवाद।।

(न्यूज सोर्स- aajtak.indiatoday.in)



Post a Comment

0 Comments