आखिर, क्यों गांधी परिवार की निगरानी करवाना चाहती है ‘मोदी सरकार’?

आखिर, क्यों गांधी परिवार की निगरानी करवाना चाहती है ‘मोदी सरकार’?

केंद्रीय गृह मंत्रालय जल्द ही स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) को लेकर नए बदलाव करने जा रही है। गांधी परिवार और पीएस को स्पेशल प्रोटेक्शन उपलब्ध कराई जाती है। इन सभी लोगों को मिलने वाली SPG जवान की सुरक्षा अब उनके साथ विदेशी दौरों पर भी उनके साथ मौजुद रहेंगे। जितने भी लोगों को ये सुविधा उपलब्ध कराई जाती है उनके साथ विदेशी दौरे पर भी ये जवान हमेशा दौरा करेंगे।

आपको बता दें कि स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप सुरक्षा को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय बदलाव कर रही है। पहले ऐसा नहीं था, लेकिन ये पहली बार है जो सरकार इस नियम में बदलाव कर रही है। सरकार के इस फैसले को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और गांधी परिवार के अन्य सदस्यों के दौरों से जोड़ा जा रहा है।

SPG की सुरक्षी केवल देश के प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्रियों को उपलब्ध कराई जाती है। फिलहाल, ये सुविधा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गांधी परिवार को दी जाती है जिनमें से कांग्रेस अध्यक्ष (अंतरिम) सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा शामिल हैं।

इससे पहले ये सुरक्षा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी दी जाती थी, लेकिन हाल ही में उनकी सुरक्षा में सिर्फ Z+ कवर कर दिया गया। खबरों कि माने तो महाराष्ट्र चुनाव से पहले राहुल गांधी विदेशी दौरे पर रवाना हो गए हैं, इस बात की चर्चाएं हैं कि वह बैंकॉक गए हैं या फिर कंबोडिया, लेकिन उनकी आधिकारिक लोकेशन की जानकारी नहीं है।

भारतीय जनता पार्टी की ओर से कई बार इस पर सवाल उठाए जा चुके हैं कि राहुल गांधी अक्सर ऐसी विदेशी यात्राओं पर जाते हैं, जिसकी देश को जानकारी तक नहीं होती है। जबकि वह विपक्षी पार्टी के बड़े नेता हैं। इसके पहले भी राहुल गांधी कई बार 50 दिन की छुट्टी या ऐसे दौरों पर गए हुए हैं, जिस पर बीजेपी निशाना साधती रही है।

मोदी सरकार के दिशा-निर्देश के बाद कांग्रेस का बयान सामने आया है। कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि इसपर हमें कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है। उनका कहना है कि सुरक्षा बहुत संवेदनशील मामला है और इसपर बैठ कर चर्चा की जानी चाहिए।

 

 



Post a Comment

0 Comments