सड़कों पर उतरे दिल्ली पुलिस के जवानों ने लिया किरण बेदी का नाम, ये है बड़ी वजह

गूगल

हाल ही में दिल्ली में एक बड़ा मामला सामने आया है। दरअसल दिल्ली पुलिस के कई जवान 5 नवंबर को सुबह से ही पुलिस मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस प्रदर्शन के पीछे की वजह तीस हजारी कोर्ट में शनिवार को हुई हिंसक झड़प है। जिसके बाद उच्च न्यायालय ने यह आदेश दिया कि जब तक इस मामले की जांच पूरी नहीं हो जाती, किसी भी वकील पर कोई कार्रवाई नहीं की जाए। ऐसे में अपनी सुरक्षा और न्याय के लिए पुलिसकर्मी सड़क पर उतर आए हैं जो कि अपनी तरह का पहला मामला है।

गूगलदिल्ली पुलिस के जवानों ने लिया किरण बेदी का नाम

प्रदर्शन के दौरान पुलिसकर्मी कई तरह के नारे भी लगा रहे थे और नारे लिखी तख्तियों का भी इस्तेमाल कर रहे थे। जिसमें उन्होंने अपनी मांगे लिखी हुईं थीं। दिल्ली पुलिस के जवान एक नारा यह भी लगा रहे थे कि,"पुलिस कमिश्नर कैसा हो? किरण बेदी जैसा हो।" यह नारा पुलिस वालों ने तब भी लगाया जब कमिश्नर अमूल्य पटनायक उन्हें मनाने के लिए आए थे। आपको बताते हैं कि आखिर दिल्ली पुलिस के जवानों ने किरण बेदी को क्यों याद किया? इसके पीछे 31 साल पुरानी एक कहानी है।

गूगलये है बड़ी वजह

दरअसल तीस हजारी कोर्ट परिसर में शनिवार को हुए बवाल ने 31 साल पहले यही हुए वकीलों पर लाठीचार्ज की याद को ताजा कर दिया है। सन 1988 में झड़प के बाद पुलिस ने वकीलों पर लाठीचार्ज किया था। जिसमें कई वकील घायल हुए थे। उस समय तत्कालीन डीजीपी किरण बेदी थीं। ऐसे में शनिवार को विरोध प्रदर्शन के दौरान दिल्ली पुलिस के जवानों ने किरण बेदी का नाम लिया।

(सोर्स- अमर उजाला डॉट कॉम)



Post a Comment

0 Comments