राम मंदिर पर फैसले से पहले आया शिवसेना का बयान, बोली हमने सरकार से...

9 नवंबर को अयोध्या विवाद का हल होने जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट शनिवार को इस मामले पर फैसला सुनाने जा रहा है। इस फैसले का पूरा देश दशकों से इंतजार कर रहा है। फैसले के मद्देनजर कोर्ट ने यूपी में सुरक्षा व्यवस्था को परख लिया है और फैसला सुनाने जा रही है। वहीं राम मंदिर पर फैसले से ठीक पहले शिवसेना ने चुप्पी तोड़ दी है। पार्टी की तरफ से बड़ा बयान आ रहा है।

यूपी से लेकर मध्य प्रदेश में चाक चौबंद इंतजाम

अयोध्या विवाद से पहले उत्तर प्रदेश हो या मध्य प्रदेश, दोनों ही राज्यों के सीएम अलर्ट हो गए हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बड़ी बैठक कर कई फैसले ले लिए हैं। इनमें तीन दिन तक सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है। लखनऊ में कंट्रोल रूम बनाया गया है, वहीं मध्य प्रदेश में भी फैसले के दिन सभी स्कूल बंद रहेंगे। इसके साथ ही शराब की दुकानों पर भी तालाबंदी रहेगी।

जानें क्या है शिवसेना का बयान

अयोध्या विवाद पर फैसले से ठीक पहले शिवसेना का बयान आया है। एक प्रेस नोट जारी कर शिवसेना ने कहा है कि हमने सरकार से राम मंदिर को बनाने को लेकर कानून के निर्माण की अपील की थी। हालांकि मोदी सरकार ने ऐसा नहीं किया। शिवसेना ने कहा कि अब जब उच्चतम न्यायालय का आदेश आ रहा है तो मोदी सरकार को इसका श्रेय नहीं लेना चाहिए।

दोस्तो आपको क्या लगता है शिवसेना का बयान कैसा है, कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें। हर अपडेट के लिए आप मुझे फॉलो जरूर करें। धन्यवाद।।

(न्यूज सोर्स- livehindustan.com)



Post a Comment

0 Comments