21 दिसंबर राशिफल : जानें क्या कहते हैं सितारे आपके दिन के बारे में

Third party image reference

मेष(Aries)–मन की परेशानियों को हटाकर रिश्तों को संवारने का समय है और यह तभी संभव हो पाएगा जब आप अपने मन में बिठाई हुई हर तरह की घबराहट को हटा देंगे. लोगों के प्रति आपके विचार वैसे ही अच्छे हैं और आप उनकी मदद भी करना चाह रहे हैं, अब इसी अच्छाई को एक कदम और आगे बढाने की जरूरत है.

क्या करें –अपनी क्षमताओं पर भरोसा करना होगा और तभी आप अपनी इच्छाओं को पंख लगा सकेंगे. बिखरते हुए प्रयास ज़िन्दगी को दिशाहीन बना देते हैं, इसी चीज़ से बचकर निकल जाने की जरूरत पड़ेगी.

क्या न करें –काम या कारोबार को सिमित नजर से न देखें, बल्कि उसे विस्तार देने की कोशिश कर लें, तभी आपके लाभ में भी बढ़ोतरी हो पाएगी. लोगों की अच्छी बनती हुई भूमिका को भी किसी तरह से कम न आंकें.

वृषभ(Taurus)–अपनी प्राथमिकताओं को भलीभांति समझने की जरूरत है. किसी प्यार के रिश्ते को आप आगे बढ़ाना चाह रहे हैं पर घर-परिवार में तकरार की स्तिथि पैदा होती चली जा रही है. अपनों को नाराज़ करके ज़िन्दगी में कुछ पाया तो क्या पाया और इस चीज़ का दूसरा असर भी हो सकता है और आपके कामकाज के दबाव भी बढ़ सकते हैं, इसलिए ज़िन्दगी का तालमेल बनाना बहुत जरूरी है ताकि किसी भी तरह की कमी का असर किसी दूसरी चीज़ पर न पड़ता चला जाए.

क्या करें –कई तरह के अच्छे विकल्प हो सकते हैं आपके सामने जो आपकी आर्थिक स्तिथि को योजना के रूप में संभाल लें, फिर भी अपनी आमदनी को बिखेरते चले जाने से बचना होगा और अपनी बचत को बढाने की ओर ध्यान देना होगा, इसमें आपकी क़ाबलियत और आपका अच्छा प्रदर्शन आपके हालात को संवारने में मददगार साबित होगा.

क्या न करें –ऐसे लोगों से उलझते न चले जाएँ जो आपकी मदद कर सकते हैं, इसलिए ऐसा न सोचें की सिर्फ समस्या ही समस्या है, हर चीज़ का कोई न कोई समाधान निकाला जा सकता है जिसमें आपकी अपनी सूझबूझ काम आए, इसलिए सिर्फ परेशानियों को ही न देखते चले जाएँ.

मिथुन(Gemini)–निजी जीवन में छुटपुट तकरार की स्तिथि बनी रह सकती है, पर आपकी कोशिशें आपके अपनों को समझाने-बुझाने में काम आ सकती है, यह इसलिए अच्छाई का योग हैं क्योंकि आपके आसपास के लोग भरोसे के काबिल हैं और आप उनसे जुड़कर अपनी ज़िन्दगी की खुशियों को बना सकते हैं.

क्या करें –लोगों के प्रति आलोचनात्मक रवेया अपनाते चले जाने से बचना होगा और हर छोटी बात को बिगाड़ते चले जाना आपकी गलती होगी, इसलिए अपने मन में बिठाये हुए अविश्वास को तो हटाना ही पड़ेगा.

क्या न करें –चुनोतियाँ जरूर हैं पर तकदीर की भूमिका में कमी निकालते चले जाना भी ठीक नहीं है. ज़िन्दगी की खुशियाँ किसी न किसी रूप से बनी रहें यह भी कोई छोटी बात नहीं.

कर्क(Cancer)–अपने ज्ञान और अपनी क्षमताओं को बढाने के लिए यह समय अच्छा है पर लोगों को संभालना मुश्किल हो रहा है और वो भी इस वजह से क्योंकि आपकी कोई न कोई बात किसी न किसी तरह की गलतफ़हमी को उत्पन्न करती चली जा रही है. रिश्तों को लेकर बहुत सारे हालात संभले हुए हो सकते हैं पर अपने जीवनसाथी के साथ मुश्किलें ऐसी बनती चली जा रही हैं जो संभल नहीं पा रही.

क्या करें –किसी प्यार के रिश्ते को आगे बढाने का मन बहुत है पर उसमें भी अविश्वास के बादल मंडरा रहे हैं. आप बहुत दूर का सोच रहे हैं और दूर का सोचते हुए परेशान भी होते चले जा रहे हैं. थोड़ा सा भरोसा और थोड़ी सी लगन बनाये रखने से भी रिश्तों को भलीभांति संभाला जा सकता है.

क्या न करें –ऐसे लोगों की मदद करने से कोई फायदा होने वाला नहीं है जो पहले से आपके खिलाफ हैं. कभी-कभी किसी बात को सँभलने में थोड़ा सा वक्त भी लग जाता है. किसी भी वजह से किसी पुरानी बात को कुरेदते चले जाना भी ठीक नहीं है.

सिंह(Leo)–किसी अच्छे निवेश का विचार हो सकता है आपके मन में और आप अपनों की खुशियों को बनाये रखने के लिए बहुत कुछ ऐसा करना चाह रहे हैं जो उनके मन मुताबिक हो. यह अच्छी बात है क्योंकि ऐसा करते हुए आपकी अच्छाई और आपकी ईमानदारी उभरकर आ रही है.

क्या करें –घर-परिवार की खुशियों को बनाए रखने का समय है क्योंकि आर्थिक स्तिथि संभली हुई है. उसका और एक बहुत बड़ा कारण है. आप अपनी मेहनत को थोड़ा सा और संवार लें और आपके प्रदर्शन में तेज़ी से ऐसे बदलाव हो सकता है जो आपकी ज़िन्दगी की उपलब्धियों को बढ़ाता चला जाए.

क्या न करें –कामकाज के क्षेत्र में किसी ऐसे तकरार को बढ़ावा न दें जो आपकी छवि को बिगाड़ता चला जाए, क्योंकि इसका बुरा असर इस रूप से भी पड़ सकता है की आप अपने साथी-सहयोगियों को नाराज़ करते चले जाएँ. अगर अपनी कोशिशें किसी भी वजह से कम होती चली जाएँ तो वो कभी भी ठीक नहीं होता.

कन्या(Virgo)–ज़िन्दगी की खुशियों के बने रहने के बहुत सारे कारण हो सकते है पर उसका एक बहुत बड़ा तरीका यह है की आप लोगों को ज्यादा समझने की कोशिश करें. अपनी व्यवहारिकता बनाये रखने से लोगों से तालमेल बढ़ता चला जाएगा ऐसा ही कहते हैं आपके तारे.

क्या करें –कामकाज के क्षेत्र में आपकी मेहनत रंग ला सकती है और आपको लाभ दिलाने में मदद कर सकती है. अपनी प्रेरणा बनाई रखी जाए तो एक-एक कदम आगे बढ़ते हुए बहुत कुछ हासिल भी किया जा सकता है, पर ऐसा करते हुए अपने काम या कारोबार को नई नजर से देखने की जरूरत है और उसके प्रति भरोसा बनाये रखने की जरूरत है, तभी जाकर बड़ी सफलता के द्वार खुल सकते हैं.

क्या न करें –आपके ज्ञान और आपकी जानकारी को बढाये रखने में कई तरह की चुनोतियाँ हो सकती है, इसलिए उन चुनोतियों से घबरा न जाएँ. मदद भी मिल रही है लेकिन आपको लगता है की लोगों के विचार आपके विचारों से भिन्न हैं. ऐसे में किसी से भी फासले बनाते चले जाना ठीक नहीं है.

तुला(Libra)–आर्थिक स्तिथि आपकी योग्यताओं के अनुरूप बेहतर हो रही हैं पर कामकाज में आपका मन नहीं लग रहा और इसका एक बड़ा कारण यह भी है की आपकी उम्मीदें कुछ ज्यादा हैं जिस वजह से आपकी योजना में कमी आती चली जा रही है.

क्या करें –किसी भी बात को पूरी तरह से समझे बिना अपने लिए जोखिम की स्तिथि बनाते चले जाने से बचना होगा और यह इस वजह से भी जरूरी होगा क्योंकि मानसिक स्तर पर आपको शांत रहने की जरूरत पड़ेगी तभी जाकर बचाव बन पायेगा.

क्या न करें –घर-परिवार की खुशियों को बनाए रखने में किसी भी तरह की कमी न रखें. आपकी अच्छाई यह है की आप अपनों से जुड़े भी हुए हैं और उनकी हर जरूरत को समझ भी पा रहे हैं, पर ऐसे में मन का भटकाव बढाकर अपनों से दूरियां बनाते चले जाना भी ठीक नहीं है.

वृश्चिक(Scorpio)–हालात हर तरह से आपकी मदद कर रहे हैं. आर्थिक स्तिथि भी संभली हुई है और कामकाज से भी लाभ का योग बना हुआ है. इसी अच्छाई को लगातार बनाये रखने की जरूरत है.

क्या करें –रोज़मर्रा की मुश्किलें हो सकती हैं जिसकी वजह से आप परेशान हों ऐसा भी बहुत हद तक संभव है, पर इस सच्चाई को समझ लें की रोज़मर्रा की मुश्किलों को बढाते चले जाने से नुकसान ही पैदा होता है.

क्या न करें –अपने हालात का सही आंकलन करने के लिए आपको विचार-विमर्श करना पड़ सकता है और अपनी बात कहनी पड़ सकती है. यहीं पर मुश्किलें हैं क्योंकि किसी भी विचार-विमर्श में आप अपना धैर्य न खोएं.

धनु(Sagittarius)–कामकाज की स्तिथि में कई तरह के दबाव हो सकते हैं पर कोई परिवर्तन करना हानिकारक भी हो सकता है, इसलिए यथास्थिति भी बनाये रखनी होगी और शान्ति भी बनाये रखनी होगी. अपने अंदर भरोसा उतना ही बनाएं जो आपकी मुश्किलों का कारण न बनता चला जाए.

क्या करें –लोगों को अपने खिलाफ करते चले जाने से बचना होगा, इसलिए लोगों को शक की नजर से देखना भी छोड़ दें. कोई मुश्किल भरी स्तिथि भी सँभलने में अपना वक्त ले सकती है.

क्या न करें –अपनी आर्थिक स्तिथि को बढ़ावा देने के लिए जो भी विकल्प बन रहा है उसको पूरी तरह से ख़ारिज न करें. उसके बारे में भी एक बार फिर सोच लें, पर कामकाज की स्थिरता को फिलहाल कम न करते चले जाएँ.

मकर(Capricorn)–छुपी हुई कई ऐसी चुनोतियाँ हैं जो आपकी मुश्किलों को बढ़ा सकती है और आपके नुकसान की ओर आपको ले जा सकती हैं. इसका एक कारण यह भी है की आप लोगों की बातों में आते चले जा रहे हैं.

क्या करें –आर्थिक स्तिथि दबाव भरी हो सकती है क्योंकि आपकी बढती हुई जरूरतों को पूरा करना बहुत अहम स्तिथि है, फिर भी उधार लेते चले जाने से बचना होगा क्योंकि उससे भी आपकी देनदारी बढ़ सकती है.

क्या न करें –फिजूलखर्ची बिलकुल न करें इसलिए अपनी मुट्ठी बंद कर लें और पैसे को संभाल लें ताकि भविष्य की बढती हुई जरूरतों को सँभालने में आपकी ओर से कोई कमी न रह जाए.

कुम्भ(Aquarius)–मन परेशान है पर लोग आपकी सहायता करना चाह रहे हैं फिर भी बहुत कुछ ऐसा है जिसे धैर्य से ही संभालना होगा. सिर्फ लाभ ही सबकुछ नहीं है.

क्या करें –अपनी कार्यक्षमताओं को अपने काम में लगायेंगे तो बहुत सारी मुश्किलें संभली रहेंगी, पर अपनी कार्यक्षमताओं पर भरोसा करना होगा और ऐसा करते हुए आपकी मेहनत जरूर उभरकर आएगी.

क्या न करें –आपकी आर्थिक स्तिथि भाग्यशाली रूप से बेहतर हो सकती है, पर भाग्य को आजमाना ठीक नहीं क्योंकि ज़रा सा तकदीर से किया हुआ खिलवाड़ आपकी मुश्किलों को बढ़ा सकता है.

मीन(Pisces)–कामकाज की स्तिथि ठीक है पर कामकाज को बढ़ावा देने के लिए आपको बहुत सारे साधन जुटाने होंगे. बेहतर होते हुए समय में आपके दबाव बढ़ सकते हैं, यह बहुत बड़ी सच्चाई है.

क्या करें –रिश्तों की स्तिथि संभली हुई है क्योंकि आप अपनों के प्रति जागरूक हैं पर अपने बड़े बुज़ुर्गों के बनते बिगड़ते विचारों को फिर भी संभालने की जरूरत पड़ सकती है, जिस ओर आपको ध्यान तो देना ही पड़ेगा.

क्या न करें –अपने पैसे को न तो फंसायें और ना ही लुटायें, इसलिए पैसे से जुडी किसी भी तरह की योजना बनाने में आप कहीं कोई गलती न कर जाएँ. ज़िन्दगी की स्थिरता बनाये रखने के लिए अपनी गलतियों को दोहराते चले जाना भी ठीक नहीं.



Post a comment