आई-लीग : चर्चिल ब्रदर्स ने मोहन बागान को 4-2 से हराया

चर्चिल ब्रदर्स एफसी ने रविवार को कल्याणी में खेले गए आई-लीग मुकाबले में कोलकाता के दिग्गज क्लब मोहन बागान को 4-2 से हरा दिया. इस जीत के साथ चर्चिल ब्रदर्स दो मैचों से छह अंक लेकर गोकुलम केरल एफसी के साथ अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गई है. चर्चिल ब्रदर्स के लिए विल्स डियोन प्लाजा ने दूसरे और 38वें मिनट में गोल किए जबकि जूनियर प्राइमस ने 29वें और अबू बकर ने 76वें मिनट में गोल दागा. मोहन बागान के लिए फ्रान गोंजालेड ने 34वें और शुभा घोष ने 90वें मिनट में गोल किया. विल्स प्लाजा को मैन ऑफ द मैच चुना गया.

मैच में एक बदलाव के साथ उतरी मोहन बागान की मैदान पर एक न चली जबकि चर्चिल ब्रदर्स एफसी गोवा ने बिना किसी बदलाव के खेलते हुए इस सीजन की अपनी लगातार दूसरी जीत हासिल की. मैच का पहला गोल प्लाजा ने जाम्बियाई खिलाड़ी डावडा सेसे के क्रास पर किया. इस गोल से मेजबान टीम सन्न रह गई. उसने हालांकि इसके बाद चर्चिल ब्रदर्स के कई हमलों को नाकाम किया. आठवें मिनट पर मोहन बागान ने बराबरी का गोल करने का प्रयास किया लेकिन वह नाकाम रही. इस बीच चर्चिल ब्रदर्स ने 29वें मिनट पर बनाए एक और शानदार मूव पर गोल कर बढ़त पक्की की. यह गोल रोबर्ट जूनियर प्राइमस ने किया.

मोहन बागान ने हालांकि इसके बाद खुद को संगठित किया और 33वें मिनट पर स्पेनिश खिलाड़ी गोंजालेज के गोल करते की मदद से बढ़त को काटा. लेकिन पांच मिनट बाद ही गोवा की टीम ने मोहन बागान की टीम में दरार बनाई और प्लाजा ने बाक्स के बाहर से बेहरीन शाट लगा कर अपना दूसरा और टीम का तीसरा गोल किया. पहले हाफ में चर्चिल ब्रदर्स एफसी गोवा 3-1 से आगे थी.

मोहन बागान ने दूसरे हाफ की तेज शुरुआत की और मौकों को भुनाना चाहा लेकिन उसे सफलता नहीं मिलीचर्चिल ब्रदर्स ने भी कुछ बेहतरीन कोशिश की. लेकिन मोहन बागान के डिफेंस ने कोई मौका नहीं दिया. लेकिन 76वें मिनट पर चर्चिल ने मोहन बागान के डिफेंस में सेंध लगा ली और अबु बकर ने गोल कर बढ़त 4-1 कर दी. यहां से मोहन बागान के वापसी का मौका खत्म हो गया था. हार की ओर बढ़ रही मोहन बागान की टीम ने अंतिम पलों में सम्मान बचाने के लिए कुछ प्रयास किया और शुभा घोष ने अंतिम पलों में गोल करते हुए स्कोर 2-4 कर दिया. अंतिम पलों में ही बेइतिया के एक शानदार स्ट्राइकर को चर्चिल ब्रदर्स के सब्सीट्यूट गोलकीपर जेम्स कीथान ने रोक लिया और अपनी टीम की 4-2 की जीत के अंतर को बरकरार रखा.(खेलों पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).



Post a comment