7 दिसंबर राशिफल : जानें क्या कहते हैं सितारे आपके दिन के बारे में

मेष(Aries)–आपके दोस्त आपके प्रति कितने भी अच्छे हों पर आपको उन पर भरोसा नहीं है, इसलिए आपके मन में किसी न किसी तरह का तकरार लगातार बना हुआ है जिसे आप संभाल भी नहीं पा रहे. पैसे की स्तिथि कितनी भी अच्छी क्यों न हो पर लगता है आप फिर भी असंतुष्ट ही हैं.

क्या करें –काम और कारोबार की उस अच्छाई की ओर देखें जिससे लगातार लाभ बना हुआ है और उस अच्छाई की ओर देखें जो आपके लिए नए रास्ते खोल रही है. इसी अच्छाई के चलते अपने काम या कारोबार में बढ़ोतरी भी की जा सकती है. अपनी क्षमताओं पर भरोसा करेंगे तो आपकी मेहनत भी उभरकर आएगी.

क्या न करें –किसी भी ऐसे विकल्प को गलत न ठहराते चले जाएँ जिसमें आपके मन का भटकाव बहुत ज्यादा हो. हो सकता है आपने अपने मन में पहले से कोई ऐसी नकारात्मकता बिठा रखी हो जिसके चलते आप पूरी तस्वीर को देख न पायें और यही इस समय की गलती है.

वृषभ(Taurus)–कामकाज के प्रति अपने भरोसे को बढाने की जरूरत है. मुश्किलें जरूर हैं और आपको यह भी लग रहा है की आपको अपनी मेहनत का पूरा लाभ नहीं मिल रहा जैसे. आपकी मेहनत बनी हुई है यह अच्छी बात है, पर अपने असंतोष को हटा देने से ज़िन्दगी की उन चुनोतियों को भी संभालना आसान हो जाएगा जिनकी वजह से आप परेशान हैं.

क्या करें –अपने साथी-सहयोगियों से तालमेल बिठाये रखना होगा और ऐसा सोचने से भी बचना होगा की तकदीर आपके खिलाफ है. ज़िन्दगी के दबाव हमें ऐसा सोचने पर मजबूर करते हैं पर अपने नजरिये को बदल देने से फायदा भी जरूर होता है.

क्या न करें –किसी प्यार के रिश्ते को लेकर कोई ऐसा तकरार न बढ़ाएं जिसे आपकी गलती के रूप में देखा जाए, इसलिए व्यर्थ में लोगों की गलतियाँ भी न निकालते चले जाएँ. इन्हीं छोटी-छोटी बातों से विचारिक मतभेद बढ़ता चला जाता है और इस समय यही ठीक नहीं है.

मिथुन(Gemini)–खुद पर भरोसा भी करना होगा और अपनी क्षमताओं को उजागर करने के लिए अपनी मेहनत को भी बढ़ाना होगा. हालात आपकी मदद करना चाह रहे हैं और यह भी बहुत बड़ी बात है, इस भरोसे भी अपने कदम आगे बढ़ाए जा सकते हैं.

क्या करें –अगर आप लोगों की अच्छाई से फायदा उठा रहे हैं तो उनकी आलोचना को भी साथ ही साथ झेल लेने की जरूरत पड़ेगी. फूलों के साथ-साथ कभी-कभी थोड़े से कांटे भी झेलने ही पड़ते हैं, पर इस बात को समझ लें की कुल मिलाकर यह भाग्यशाली समय है जिससे आपको फायदा हो सकता है.

क्या न करें –किसी प्यार के रिश्ते को आगे बढाने के जो भी मौके मिल रहे हैं उनमें कमियां न ढूँढ़ते चले जाएँ. कई तरह की चुनोतियाँ हैं जिन्हें पार करना ही होगा और उसके लिए भी आपको लोगों पर भरोसा करना ही होगा ताकि उनका समर्थन मिल जाए. ऐसे में उन्हीं लोगों की गलती निकालते चले जाना भी ठीक नहीं है.

कर्क(Cancer)–अपने रवैये को सुधारेंगे तो अपने बढ़ते हुए असंतोष पर काबू पाना आसान हो जाएगा. हर चीज़ को लेकर कोई न कोई गलतफ़हमी पैदा करते चले जाने से नुकसान ही होता है, इसलिए भी आपको लोगों से तालमेल बनाये रखने की जरूरत पड़ेगी.

क्या करें –सेहत एक ऐसा मुद्दा है जिस ओर ध्यान देना होगा. अपनों की सेहत की ओर भी नज़र रखनी होगी. आपकी मानसिक परेशानियों के कई सारे कारण हो सकते हैं जिन्हें एक-एक करके दूर तो करना ही पड़ेगा, तभी जाकर काम के प्रति आपकी लगन बन पाएगी.

क्या न करें –न तो पैसे को कहीं फंसायें और ना ही फिलहाल किसी निवेश के बारे में सोचें, क्योंकि यह समय आपकी मुश्किलों को उजागर कर रहा है. कभी-कभी ज़िन्दगी के बड़े फैसले लेने से पहले थोड़ा सा रुक जाने से फायदा होता है इसलिए ज़ल्दबाज़ी बिलकुल न करें.

सिंह(Leo)–लोगों के प्रति भरोसा जगा रहे पर पैसे को लेकर आपके मन में बहुत सारी उथल-पुथल है. आपको ऐसा भी लग रहा है की आपकी उपलब्धियों में कोई न कोई कमी रह रही है. अपनी बढती हुई उम्मीदों की वजह से भी ऐसे विचार बन सकते हैं.

क्या करें –कुछ सीखने और पढने के प्रयास में अपनी क़ाबलियत में इजाफा किया जा सकता है. आपकी मेहनत सही दिशा में लगी हुई है और यह भी बहुत बड़ा आशीर्वाद है. इसी के चलते काम या कारोबार में अपने प्रदर्शन को भी बढाया जा सकता है.

क्या न करें –काम या कारोबार से जुडी चुनोतियों से आप कहीं घबरा न जाएँ, इसलिए ऐसा न सोचते चले जाएँ की किसी भी तरह की कमी है. अपनों की जरूरतों को समझने में वैसे ही कोई कमी न रखें.

कन्या(Virgo)–पैसे से जुड़ा लेनदेन आपकी समस्याओं का कारण हो सकता है, जबकि इस समय कामकाज से जुडी हुई जरूरतें ऐसी हैं जिन्हें पूरा तो करना ही पड़ेगा, इसलिए भी आपको अपनों की ओर देखना पड़ सकता है की उनकी मदद मिल जाए.

क्या करें –घर-परिवार की खुशियाँ बनाये रखने के लिए आपको थोड़ी सी चुनोतियाँ का भी सामना करना पड़ेगा, पर अगर आप अपनी मानसिकता को सुधार लेंगे तो आधी जंग वैसे ही जीत लेंगे, बाकी जो बचेगा वो आपकी कोशिशों से आसानी से संभल जाएगा.

क्या न करें –अपने सुखद हालात के खिलाफ कोई सवाल न खड़े करें. परिस्थितियां आपके लिए अनुकूल बनी हुई हैं और काम या कारोबार से लगातार लाभ भी बना हुआ है, इसलिए किसी भी चीज़ को कमी की नजर से बिलकुल न देखें.

तुला(Libra)–रिश्तों को बढ़ावा देने का बहुत मन है पर किसी प्यार के रिश्ते में उस तरह का संतोष नहीं बन पा रहा जिसकी की जरूरत है. आपकी कोशिशे अच्छी हैं और आपकी ईमानदारी भी नज़र आ रही है, फिर भी जैसे बात नहीं पा रही.

क्या करें –आपकी कोशिशें इसलिए अच्छी हैं क्योंकि आपकी क्षमताएं भरपूर हैं, उसी से आपकी योग्यताएं भी उभर रही हैं. इस अच्छाई को समझना होगा और ऐसा करने के लिए अपने मन में बिठाये हुए असंतोष को भी हटाना पड़ेगा. लोग आपकी अच्छाई को समझ रहे हैं पर आपके भरोसे में कमी आती चली जा रही है.

क्या न करें –अपनी लगन से भी मेहनत बढाई जा सकती है और अपनी चुनोतियों को सँभालने के लिए भी नई प्रेरणा ली जा सकती है, इसलिए ज़िन्दगी में बहुत कुछ ऐसा है जिसे अपनी मेहनत से पूरा भी किया जा सकता है. ऐसे में अपने प्रयास कम बिलकुल न होने दें.

वृश्चिक(Scorpio)–घर-परिवार की खुशियां बनी हुई हैं पर आप फिर भी परेशान हैं. रोज़मर्रा के रूप में कई ऐसी बातें उभरती चली जाती हैं जो आपको कई तरह के सवालों के घेरे में लाकर खड़ा कर देती हैं. इसी वजह से आप कभी-कभी बहुत दूर भाग जाना चाहते हैं.

क्या करें –अपनी कोशिशों से बहुत कुछ हासिल किया जा सकता है पर सबसे बड़ी जरूरत यह है की अपनी विनम्रता बनाए रखनी होगी और किसी भी तरह की गलतियों से बचना होगा. बहुत ज्यादा सोचकर और परेशान होकर नुकसान ही होता है.

क्या न करें –कई तरह के अच्छे विकल्प हो सकते हैं आपके मन में, फिर भी ज़ल्दबाज़ी न करें, क्योंकि यह गलतियों भरा समय है इसलिए किसी भी एक चीज़ को लेकर बहुत ज्यादा सपने देखते चले जाना भी ठीक नहीं है.

धनु(Sagittarius)–आपकी कोशिशें अच्छी है और जिस भी काम में लगे हुए हैं उसमें आपको उन कोशिशों का लाभ भी मिल रहा है, पर फिर भी लोगों से तालमेल बिठाये रखने में बहुत सारी कमियां हो सकती हैं. आपको ऐसा लग रहा है की लोग ही आपकी परेशानियों का कारण बने हुए हैं.

क्या करें –थोड़ा सा व्यवहारिक नजरिया अपनाना होगा और ज़िन्दगी को इस रूप से देखना होगा की आपने क्या पाया और आगे भी आप क्या कुछ पा सकते हैं. इस तरह का आशावादी रेवेया बनाये रखेंगे तो बहुत कुछ पाना और बहुत कुछ करना आसान हो जाएगा.

क्या न करें –आर्थिक दृष्टिकोण से अच्छा समय है इसलिए हर चीज़ में गलतियाँ न निकालें पर साथ ही साथ इस बात को भी समझ लें की कोई ऐसा बड़ा खतरा मोल न लें जिसके चलते एक ओर तो नुकसान होता चला जाए और दूसरी ओर लोग आपके खिलाफ होते चले जाएँ.

मकर(Capricorn)–आर्थिक दृष्टिकोण से दबाव भरा समय हो सकता है पर इस वजह से कामकाज की स्तिथि भी ऐसी है जो संभालने से ही संभलेगी. कई तरह की ग़लतफ़हमियाँ पैदा हो सकती हैं जिन्हें सँभालने में मुश्किल आन खड़ी हो.

क्या करें –धैर्य बनाये रखना होगा और अपने विचारों को बहुत धीमा बनाये रखना होगा. समय के साथ ही इन परेशानियों का समाधान उभर पायेगा, इसलिए किसी भी तरह की उत्तेजना से फिलहाल बचकर निकल जाने की जरूरत पड़ेगी.

क्या न करें –कामकाज को लेकर या किसी प्यार के रिश्ते को लेकर कोई ऐसा विचार न बनाएं जो आपको परेशानियों में डाले, इसलिए किसी भी विचार को बहुत ज्यादा रफ़्तार देने की कोशिश बिलकुल न करें. अगर कोई भी चीज़ आपके नुकसान का कारण बनती चली जायेगी तो वो इस समय ठीक नहीं होगा.

कुम्भ(Aquarius)–आप पहले से ही अपने ऊपर दबाव बनाये रखेंगे तो गलतफ़हमियाँ पैदा होंगी और रिश्तों की अच्छी-भली स्तिथि को भी संभालना मुश्किल होता चला जाएगा. अविश्वास एक ऐसी चीज़ है जो रिश्तों को हिला सकता है.

क्या करें –अपने मन में बिठाई हुई दुविधा को हटा दें और आप देखेंगे की हर तरह का लाभ आपको मिलता चला जा रहा है. यहाँ तक की काम और कारोबार में भी आपकी क्षमताएं लगी रहें जिससे आपकी स्तिथि संभली रहे. ऐसी अच्छाई आपके लिए बनी हुई जिसे बनाये रखने की जरूरत है.

क्या न करें –उस आशीर्वाद की ओर जरूर देखें जो आपकी स्तिथि को संभाले हुए है, इसलिए हर छोटी बात को लेकर अपने मन को उचाट न करते चले जाएँ. किसी भी तरह की छोटी रुकावट के चलते अपनी कोशिशों को इस समय कम करते चले जाना भी ठीक नहीं होगा.

मीन(Pisces)–मन परेशान है इसलिए आप लोगों से अलग-थलग होते चले जा रहे हैं. निजी जीवन में भी बहुत कुछ ऐसा है जो अच्छा नहीं लग रहा. इसी वजह से ग़लतफ़हमियाँ उभर जाने का भी अंदेशा है.

क्या करें –कामकाज की स्तिथि ऐसी है जिसे बढ़ावा देना होगा पर उसमें अपनी मेहनत के बलबूते पर ही चलना होगा. किसी भी तरह के परिवर्तन से बचकर निकल जाएंगे तो आप अपने नुकसान से भी बचे रहेंगे. किसी प्यार के रिश्ते की ओर अपने मन को उचाट करते चले जाने से भी बचना होगा.

क्या न करें –रोज़मर्रा की चुनोतियों की वजह से अपने कामकाज की स्तिथि को कमज़ोर न करते चले जाएँ, इसलिए अपने साथी-सहयोगियों के खिलाफ न सोचें. किसी से भी कोई ऐसी चुभती हुई बात न कहें जो किसी को मन को दुखाए और उसका बुरा असर आपकी ज़िन्दगी के कई और पहलुओं पर पड़ता चला जाए.



Post a Comment