जेडीयू और लोजपा के बाद भाजपा की ये साथी पार्टी भी आई विरोध में, बोली नागरिकता कानून से...

Google Image

नागरिकता कानून पर मोदी सरकार औऱ भारतीय जनता पार्टी की मुसीबत बढ़ती जा रही है। इस कानून को लेकर विरोधी दल ही नहीं भाजपा के साथी दल ही विरोध में आ गए हैं। पहले लोजपा और जेडीयू ही इस कानून पर सवाल उठा रहे थे। अब भाजपा के एक और साथी दल ने इस कानून पर सवाल उठा दिए हैं। आइए जानें वो दल कौन सा है और उसने क्या सवाल उठाया है।

Google Image

लोजपा और जेडीयू उठा चुके हैं सवाल

नागरिकता कानून को लेकर देश भर में विरोध तो चल रहा है। मोदी सरकार के कानून को लेकर विपक्ष तो पहले से ही हमलावर है। वहीं दूसरी ओर भाजपा के ही सहयोगी दल इस कानून पर सवाल उठा चुके हैं। लोजपा के चिराग पासवान तो कह चुके हैं कि मोदी सरकार इस कानून पर फैले भ्रम को दूर करने में नाकामयाब रही है। वहीं नीतीश कुमार साफ कर चुके हैं कि बिहार में एनआरसी नहीं आएगा।

Google Image

अब इस साथी दल ने भी उठाए सवाल

जेडीयू औऱ लोजपा के बाद अब भाजपा की सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल ने इस कानून पर सवाल उठा दिए हैं। पार्टी के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने साफ कह दिया कि इस कानून से मुस्लिम समुदाय को अलग नहीं रखना चाहिए था। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आए मुसलमानों को इस कानून में शामिल करना चाहिए था।

दोस्तो आपको क्या लगता है मोदी सरकार के लिए मुसीबत की बात है या नहीं, कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें।



Post a comment